To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया : गांवों में उतरी चिकित्सकों की टीम, बछियों और पड़ियों को बांझपन से बचायेगी ब्रुसेल्ला वैक्सीन

सिकन्दरपुर, बलिया। पशुओं को ब्रूसेलोसिस बीमारी के संक्रमण से होने वाली बांझपन जैसी समस्या को दूर करने के लिए वृहद टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है।राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम के तहत चलाए जा रहे इस अभियान के तहत तहसील क्षेत्र में अब तक 2500 पशुओं को ब्रुसेल्ला वैक्सीन का टीका लगाया जा चुका है। इसी क्रम में बुधवार को पशु चिकित्सकों की टीम ने गांव गांव घूम कर टीकाकरण किया। इस दौरान अखैनी, खड़सरा, रूपवार, हरिपुर, कल्याणडेहरा में पशुओं को टीकाकरण किया गया। 31 मई तक चलाये जाने वाले इस अभियान में चार से आठ माह के कुल 4550 बछिया और पड़ियों को उक्त टीका लगाया जाना है। इसमें तहसील क्षेत्र के नवानगर ब्लॉक के 3120 और पंदह ब्लॉक के 1430 पशु शामिल हैं।  

पंदह ब्लॉक के पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ. एसपी सिंह ने बताया कि ब्रूसेलोसिस बीमारी एक जीवाणु जनित रोग है। यह ऐसा संक्रमण है जो एक बार होने पर उम्र भर बना रहता है। इससे संक्रमित पशु की प्रजनन क्षमता कम हो जाती है। यहां तक कि अंतिम तिमाही में गर्भपात तक हो जाता है। इससे बचाव का एक मात्र उपाय टीकाकरण ही है। सरकार की तरफ से ब्रूसेला का टीका निशुल्क लगाया जा रहा है। यह टीका चार से आठ माह की मादा बछिया एवं पड़िया को संपूर्ण जीवन में केवल एक ही बार लगाया जाता है। पशुपालकों से अपील किया कि ब्रूसेलोसिस बीमारी से बचाने के लिए अपने चार से आठ माह के मादा बछिया एवं पड़िया को निश्चित रूप से  टीकाकरण करवाएं। बताया कि जिन पशुओं को टीके लगेंगे, उनके कान में टैग भी लगाया जाएगा। टीका लगने के 28 दिन बाद पशुओं की सीरो मॉनिटरिंग के लिए सीरम के नमूने लेकर उसकी जांच भी कराई जाएगी। कहा कि गर्भपात के कारण पशुपालकों को काफी आर्थिक नुकसान होता है। एक बार इस रोग से ग्रसित होने के बाद इसका कोई इलाज नहीं होता है। इसका एक मात्र उपाय वैक्सीनेशन ही है। इस दौरान उन्होंने ने किसानों से निराश्रित और बेसहारा पशुओं के लिए भूसा दान करने के भी अपील की। इस मौके पर पशुधन प्रसार अधिकारी कंचन व ओमप्रकाश, रामजी यादव, संजय कुमार, आजाद वर्मा, सुनील कुमार मौजूद रहे।

Post a Comment

0 Comments