To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया में आग का गोला बनकर उड़ा सिलेंडर : बिस्फोट से मचा हड़कम्प ; 5 परिवार तबाह, दो झुलसे


बलिया। सिकन्दरपुर थाना क्षेत्र की ग्राम पंचायत सिसोटार के हरदिया पुरवे में रसोई गैस सिलेंडर न सिर्फ आग का गोला बना, बल्कि पलक झपकते ही झोपड़ी को चीरते हुए हवा में उड़ गया। घटनास्थल से करीब 100 मीटर दूर तेज आवाज के साथ ब्लास्ट कर गिरा तो लोग थर्रा उठे। पूरे इलाके में अफरा-तफरी मच गयी। उधर, झोपड़ी में लगी आग से पांच परिवारों की एक दर्जन झोपडियां व उसमें रखा लाखों का सामान जलकर राख हो गया। आग बुझाने के प्रयास में सास-बहू  झुलस गई है। 

गांव निवासी मार्कण्डेय बिंद की पत्नी शोभा देवी (35) शुक्रवार की रात गैस सिलिंडर पर खाना बनाने के जैसे ही रसोई गैस जलाया, सिलेंडर में आग लग गई। वह कुछ समझ पाती, तब तक सिलेंडर से उठी आग की लपटे झोपड़ी को जद में ले ली। इस बीच, आग बुझाने के प्रयास में शोभा देवी और उनकी सास परमेश्वरी देवी (60) बुरी तरह झुलस गई। उन्हें समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिकन्दरपुर पहुंचाया गया।उधर, आग की लपटें पास की 11-11 रिहायशी झोपड़ियां भी धूं-धूं कर जलने लगी। 

बताया जा रहा है कि आग की विकरालता के बीच, सिलेंडर उड़ा और करीब 100 मीटर दूर तेज आवाज के साथ गिरा। इधर आग, उधर बिस्फोट से गांव में हड़कम्प की स्थिति रही। कोई सामान बचाने की जुगत में था तो कोई आग बुझाने की कोशिश कर रहा था। कूछ लोग बच्चों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचा रहे थे तो कुछ मवेशियों को। ग्रामीणों के अथक प्रयास से काफी देर बाद आग पर काबू पाया जा सका।


खुले आसमान के नीचे आये अग्निपीड़ित

इस घटना में मार्कण्डेय की दो झोपडियां, 25 हजार नगद, सोने व चांदी के कुछ आभूषण सहित 11 कुंतल गेहूं व पांच कुंतल चावल जल गया।  वहीं, उसके छोड़े भाई गोविंद पुत्र जगदीश की एक झोपड़ी और उसमें रखा दहेज का सारा सामान मसलन फ्रीज, कूलर, बक्सा, 15 कुंतल राशन व गहना जल गया। वहीं, रामभजन पुत्र जगदीश बिंद की दो झोपड़ी, दिनेश बिंद पुत्र स्व. रामनरेश की झोपड़ी, बाइक, साइकिल व भूसा, शिवजी बिंद पुत्र विकल बिंद की एक झोपड़ी व 10 कुंतल गेंहू, किरण पत्नी रामभजन बिंद की दो झोपड़ी, 40 हजार रुपये, आभूषण व 12 कुंतल अनाज, विकल की एक झोपड़ी व राजनाथ बिन्द एक झोपड़ी तथा आठ कुंतल अनाज समेत उसमें रखा घर गृहस्थी का सारा सामान, चार कुक्कुट, दो खरगोश समेत अन्य जरूरी कागजात पल भर में जल कर राख हो गये। घटना के बाद सभी परिवार खुले आसमान के नीचे आ गए हैं। वहीं, ग्राम प्रधान तारीक अजीज ने पीड़ित परिवारों को तत्काल राशन व अन्य जरुरी सामान उपलब्ध कराने का भरोसा दिया है। 

Post a Comment

0 Comments