To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया के सबसे बड़े परिषदीय स्कूल के प्रधानाध्यापक का फेयरवेल, भींगा हर किसी की आंखों का कोर


बलिया। छात्र संख्या के मामले में सदैव जिला टॉप रहने वाले स्वच्छ, सुंदर और सुसज्जित स्कूल कंपोजिट विद्यालय सिकन्दरपुर के प्रधानाध्यापक जहीर आलम अंसारी 31 मार्च को सेवानिवृत्त हो गये। अपने प्रिय प्रधानाध्यापक के सम्मान में मंगलवार को फेयरवेल समारोह का आयोजन विद्यालय परिवार ने किया। समारोह में बतौर मुख्य अतिथि पूर्व विधायक संजय यादव तथा विशिष्ट अतिथि ब्लॉक प्रमुख नवानगर केशव चौधरी व खंड शिक्षा अधिकारी प्रभात कुमार श्रीवास्तव के साथ ही शिक्षक-कर्मचारी न सिर्फ शामिल हुए, बल्कि बहुमुखी, बहुआयामी, हरदिल अजीज, सहज व सरल व्यक्तित्व के धनी सेवानिवृत प्रधानाध्यापक के सम्मान में अपना विचार भी रखे। 


पूर्व विधायक संजय यादव ने कहा कि शिक्षक कभी सेवानिवृत्त नहीं होते हैं।सेवाकाल में रहते हुए वह मासूमों को शिक्षा और संस्कार देते हैं तो सेवानिवृत्त के बाद अपने अनुभवों के आधार पर समाज का मार्गदर्शन करते हैं। शिक्षक राष्ट्र निर्माता हैं। गुरु की उपाधि माता-पिता से भी बढ़कर बताई गई है। सेवानिवृत्त प्रधानाध्यापक जहीर आलम अंसारी को आदर्श, कर्तव्यनिष्ठ, नियमित और प्रेरणा का स्त्रोत बताया। कहा कि शिक्षक के हर गुण इनमें कूट-कूट कर भरे हुए हैं। सभी को एक सूत्र में लेकर चलने की क्षमता इनकी अद्भूत है।


विशिष्ट अतिथि ब्लॉक प्रमुख नवानगर केशव चौधरी ने कहा कि सेवानिवृत्त होना एक स्वाभाविक प्रक्रिया है। शिक्षकों द्वारा देश व समाज को दिया गया योगदान सदा अनुकरणीय होता है। विदाई समारोह व्यक्ति के योगदान को पहचानने के लिए किया जाता है। कहा कि इनके अच्छे गुणों को अपने जीवन में उतारना चाहिए। इससे पहले अतिथियों द्वारा मां सरस्वती के चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलन एवं माल्यार्पण कर कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ किया गया। विद्यालय परिवार ने मुख्य अतिथि व विशिष्ट अतिथि का स्वागत किया। अध्यक्षता अरविंद राय व संचालन डॉ. मोहन कांत राय ने किया। 


पुष्पगुच्छ, अंगवस्त्रम व मोमेंटों किया भेंट

सेवानिवृत्त प्रधानाध्यापक जहीर आलम अंसारी को सेवानिवृत्ति पर पुष्पहार,  अंगवस्त्रम व स्मृति चिन्ह भेंटकर शिक्षकों ने सम्मानित किया। इस दौरान न सिर्फ प्रधानाध्यापक जहीर आलम अंसारी भावुक हुए, बल्कि वहां मौजूद हर कोई इमोशनल हो गया। करीब 12  वर्ष उक्त विद्यालय पर सेवा दे चुके प्रधानाध्यापक की विदाई विद्यालय से हुई तो हर किसी की आंखों का कोर भींग गया।


समारोह में इनकी रही मौजूदगी

प्रभारी प्रधानाध्यापक अभिलाष मिश्र, अशोक यादव, आशुतोष तोमर, डॉ. अरविंद सिंह, राज देव, आशुतोष, सुशील कुमार, सच्चिदानंद, विनय कुमार, ओम प्रकाश राय, अमरनाथ यादव, सतेन्द्र राजभर, विशाल राजभर, शमीम अहमद, इंदु देवी, मोहम्मद इस्लाम, उमेश प्रधान, आकाश तिवारी, ओपी यादव, तरन्नुम अंसारी, सियाराम यादव, विनोद यादव, आलोक यादव, अमरनाथ यादव, अनिल सिंह, अरुणेंद्र राय, लल्लन शर्मा, हरिशंकर प्रजापति, रामजी गुप्ता, अमरनाथ यादव, सुधीर कुमार मिश्रा आदि मौजूद रहे।

Post a Comment

0 Comments