To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया बंद... शहर से लेकर कस्बों और गांव के बाजारों में भी रही अभूतपूर्व बंदी


रोहित सिंह/शिवदयाल पांडेय मनन
बलिया। पेपर लीक मामले में तीन पत्रकारों की गिरफ्तारी के विरोध में संयुक्त पत्रकार संघर्ष मोर्चा के आह्वान पर शनिवार को बलिया बंद का व्यापक असर रहा। शहर के साथ ही बैरिया, रानीगंज, रामगढ़, लालगंज, सिकन्दरपुर, बांसडीह, बांसडीह रोड, बेल्थरारोड, बेरुआरबारी, रतसर, रसड़ा, मनियर, हल्दी, गड़वार, सहतवार आदि स्थानों पर दुकानें पूरी तरह से बंद रही।व्यापारियों ने न सिर्फ अपना प्रतिष्ठान बंद रखा, बल्कि पत्रकारों के साथ प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी भी किया। बंदी को सफल बनाने के लिए व्यापारी संगठन, शिक्षक संघ, एडवोकेट समेत  विभिन्न सामाजिक संगठन के लोग पत्रकारों के साथ सुबह ही सड़क पर उतर गए। इस दौरान कई जगह कोतवाल और पत्रकारों के बीच झड़प भी हुई। 

बन्दी को सफल बनाने के लिये संयुक्त पत्रकार संघर्ष मोर्चा के बैनर तले शहर में जुलूस निकला। इसमें शामिल लोग बंदी में सहयोग के लिए व्यापारियों से निवेदन करते रहे। व्यापारियों ने भी भरपूर सहयोग दिया। हालांकि कई स्थानों पर बन्द दुकानों को पुलिस खोलने का संकेत करती रही,  लेकिन व्यापारियों ने दुकानें बन्द रखी।


फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया व्यापार मंडल के संयुक्त मंत्री रजनीकांत सिंह, प्राथमिक शिक्षक संघ के अध्यक्ष जितेन्द्र सिंह, अजय कुमार मिश्र, पूर्वांचल उद्योग व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष मंजय सिंह, कांग्रेस नेता जैनेन्द्र पाण्डेय, सामाजिक कार्यकर्ता राहुल सिंह सागर के साथ ही काफी संख्या में पत्रकार व अन्य संगठन के लोग सड़कों पर चक्रमण करते रहे। टाउन हाल में व्यापारी नेता रजनीकांत सिंह ने कहा कि व्यापारियों ने दुकानें बंद करके पत्रकारों पर प्रशासन की कार्यवाही का विरोध किया। कहा कि व्यापारी समाज पत्रकारों के साथ है और आगे भी रहेगा। 

बैरिया तहसील क्षेत्र में अभूतपूर्व बंदी रही। इलाके के रानीगंज, बैरिया, मधुबनी, लालगंज, रामगढ़ आदि बाजारों की सभी दुकानें पूरी तरह से बंद रही। इस बंद को पूर्व विधायक सुरेंद्र सिंह, सपा विधायक जयप्रकाश अंचल, उद्योग व्यापार मंडल रानीगंज बाजार, पूर्व सैनिक संगठन बैरिया, छात्र संगठन व कांग्रेश तथा बहुजन समाज पार्टी के नेताओं ने भी अपना समर्थन दिया। पूर्व विधायक सुरेन्द्र सिंह अपने समर्थकों के साथ बाजारों में पैदल मार्च कर बंदी के समर्थन में अपील करते रहे। इसी क्रम में सुरेंद्र सिंह ने पत्रकारों और अपने कार्यकर्ताओं के साथ डाक बंगला में बैठक कर मंगलवार को बैरिया से अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ पत्रकारों के समर्थन में पहले नगवां जाकर मंगल पांडे की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर जिला मुख्यालय पर पहुंचकर पत्रकारों के चल रहे धरना में भाग लेने के साथ ही जिला प्रशासन के लिए बुद्धि शुद्धि यज्ञ की घोषणा की।

कहा पत्रकारों के लिए किसी भी हद तक जाने को मैं तैयार हूं। प्रशासन पत्रकारों को नहीं बख्स रहा है तो आम लोगों की क्या बिसात है। यह देश लोकतांत्रिक मूल्यों पर चलता है। यहां पर किसी को मनमानी करने की छूट नहीं दी जा सकती। पत्रकार रविंद्र सिंह, वीरेंद्र मिश्र, सुधाकर शर्मा, शिवदयाल पाण्डेय मनन, विश्वनाथ तिवारी, सत्येंद्र पांडे, सुनील पांडे, विद्याभूषण चौबे, अखिलेश पाठक आदि लोग रहे। ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन बैरिया के अध्यक्ष सुधीर सिंह ने बंदी की सफलता पर व्यापारियों, राजनीतिक दलों, जनप्रतिनिधियों, छात्र संगठनों एवं समाजसेवियों के प्रति आभार व्यक्त किया।

नगर रेवती में भी अभूतपूर्व बन्दी रही। उक्त प्रकरण को लेकर व्यापारियों ने संयुक्त पत्रकार मोर्चे के बलिया बन्द के आवाहन पर अपनी दुकानें, प्रतिष्ठानों को बन्द कर पत्रकारों एवं किसान आदि संगठनों के लोगों के साथ मिलकर धरना दिया। इस मौके पर अखिल भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के नगर अध्यक्ष विरेन्द्र गुप्ता, किसान नेता लक्ष्मण पाण्डेय, शिव जी केशरी, सुनील केशरी, जैनुद्दीन, पप्पू केशरी, शंकर पटवा, राजेश केशरी, रमेश माणिक, दहारी पाण्डेय, गुड्डु केशरी, सन्तोष सिंह, जोगिन्दर जी, बुलबुल के अलावा पत्रकार अनिल केशरी, शिवसागर पाण्डेय, महेश कुमार आदि रहे। संचालन वरिष्ठ पत्रकार राम प्रताप तिवारी ने किया।


Post a Comment

0 Comments