To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया : बिलख रहा बचपन, तड़प रहा हर दिल

बैरिया, बलिया। बैरिया तहसील की ग्राम पंचायत चांद दियर के यादव नगर प्लाट में 30 परिवारों की लगभग 200 की आबादी दाने-दाने को मोहताज है। अगलगी की घटना के 24 घंटे बाद भी प्रशासनिक सहायता पीड़ितों तक नहीं पहुंच सकी है। ग्राम प्रधान विनोद यादव ने अपनी तरफ से अग्नि पीड़ितों को भोजन और धूप से बचने के लिए तिरपाल की व्यवस्था कराया है। वहीं, आग से झुलसे चार लोगों के इलाज के लिए भी एक एक हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रधान द्वारा अग्नि पीड़ितों को उपलब्ध कराया गया है।

गौरतलब हो कि मंगलवार को लगी आग से यादव नगर प्लाट में 30 परिवार बेघर हो गया था। एक पांच वर्षीय बालक भी जिन्दा जल गया था। इस भीषण गर्मी में अग्निपीड़ित तबाह हो गये है। छोटे-छोटे बच्चों की हालत और खराब है। वे बिलख रहे है। वहीं, आग से बर्बाद हो चुके लोग परेशान है। लेकिन अब तक अग्नि पीड़ितों को सरकारी सहायता के नाम पर कुछ भी नहीं मिल सका है। 

अग्नि पीड़ित रमाशंकर यादव, दिनेश यादव, राजकिशोर यादव, अदालत यादव, विष्णु देव यादव, सुरेंद्र यादव, रामजी यादव सहित दर्जनों अग्नि पीड़ितों ने बताया कि प्रधान के तरफ से पका पकाया भोजन उपलब्ध कराया गया है। साथ ही एक-एक त्रिपाल सभी प्रधान द्वारा दिया गया है। तहसील प्रशासन की ओर से अभी तक कोई सहायता नहीं मिली है। वही आगलगी की घटनाओं के प्रति फायर ब्रिगेड की उदासीनता क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है।

इस संदर्भ में तहसीलदार बैरिया संजय सिंह ने बताया कि अग्नि पीड़ितों को राशन उपलब्ध कराने का निर्देश कोटेदारों को दिया गया है। नुकसान का आकलन हो रहा है। घटना में मृत बच्चे के पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद उसके परिजनों को चार लाख की नकद सहायता दी जायेगी। अन्य अग्नि पीड़ितों को उचित सहायता प्रदान किया जाएगा। 


शिवदयाल पांडेय मनन

Post a Comment

0 Comments