To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया : शिक्षामित्रों और अनुदेशकों की होली 'बेरंग', ये है बड़ी वजह


बलिया। जिले के लगभग 2800 शिक्षा मित्रों व लगभग 500 अनुदेशकों की होली बेरंग रहेगी। उन्हें पिछले दो माह से पगार नहीं मिली है। मानदेय नहीं मिलने से शिक्षा मित्रों और अनुदेशकों के सामने आर्थिक संकट खड़ा हो गया है। 

यह भी पढ़ेंबलिया : प्रसव पीड़ा के दौरान शिक्षिका की मौत, शोक की लहर

उतर प्रदेश प्राथमिक शिक्षा मित्र संघ के जिलाध्यक्ष पंकज सिंह ने बताया कि जिले के प्राथमिक स्कूलों में काम करने वाले शिक्षा मित्रों को 10 हजार और जूनियर हाईस्कूलों में कार्यरत अनुदेशकों को प्रतिमाह 7000 मानदेय मिलता है। वह भी समय से नहीं मिलता है। शायद ही कभी ऐसा हुआ होगा कि त्योहारों के पहले मानदेय मिल गया हो। दो दिनों बाद होली है, लेकिन अब तक जनवरी-फरवरी का मानदेय नहीं मिला। मामूली मेहनताने पर काम करने वाले शिक्षा मित्र व अनुदेशक मंहगाई के इस दौर में परिवार का बोझ कैसे उठाते होंगे, सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है।

मानदेय के लिए परेशान शिक्षा मित्र व अनुदेशकों को पूरी उम्मीद थी कि होली के पहले मानदेय भुगतान हो जाएगा जिससे परिवार के साथ हंसी खुशी होली व शवेबरात जैसे त्योहार मना लेंगे लेकिन प्रदेश से लेकर जिले के विभागीय अधिकारियों की लापरवाही और उदासीनता के कारण हिन्दुओं के सबसे बड़े त्योहार पर मानदेय नहीं मिला।

Post a Comment

0 Comments