To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया : यूपी के किसानों की फसल काट ले गये बिहार के दबंग

बैरिया, बलिया। बैरिया थाना क्षेत्र के गंगा उस पार नौरंगा गांव के दक्षिण तरफ यूपी बिहार की सीमा पर बिहार के दबंग रविवार को असलहों के बल पर नौरंगा के किसानों का लगभग पांच एकड़ से अधिक क्षेत्रफल में बोई गई मसूर, सरसों व खेसारी की फसल काट ले गये। पीड़ित नौरंगा उत्तर प्रदेश के किसान थाना तहसील का चक्कर लगाते रहे, लेकिन न्याय नहीं मिला। किसान पत्रकारों के सामने फूट फूट कर रोने लगे। पीड़ित किसानों ने बैरिया पुलिस पर बिहारी दबंगों का सहयोग करने का आरोप लगाया है। इस बाबत पुलिस अधीक्षक, डीआईजी तथा जिलाधिकारी से पीड़ित किसानों ने फरियाद की है।

.नौरंगा के किसान जनार्दन ठाकुर, रामजी ठाकुर, रामजन्म ठाकुर, सुधाकर ठाकुर, मनोज ठाकुर आदि ने नौरंगा मौजा में 20 वर्ष से अधिक समय पूर्व खरीदे गए खेत में मसूर, खेसारी व सरसों की खेती किए थे। फसल जब पकने को हुई तो बिहार के ओझवलिया गांव निवासी कुछ दबंग उक्त फसल को अपना फसल बताते हुए हथियार के बल पर काटने का प्रयास करने लगे। ऐसे में उत्तर प्रदेश के किसान बैरिया थाना पहुंचे, जहां कोतवाल ने इसे राजस्व का मामला बताते हुए तहसील में जाने को कहा। बैरिया तहसील में पहुंच कर उक्त किसानों ने पूरी बात उपजिलाधिकारी बैरिया अभय कुमार सिंह को बताई। उन्होंने तत्काल फसल कटाई पर रोक लगाते हुए उभय पक्षों की बात सुनकर 'जिसने बोया है, वही काटेगा' के आधार पर मामले को हल करने के लिए बैरिया एसएचओ को लिखा। 

पीड़ितों का आरोप है थाने पहुंचने पर एसएचओ मौजूद नहीं थे। उपनिरीक्षक ओमप्रकाश यादव एवं बैरिया चौकी इंचार्ज अखिलेश नारायण सिंह मौजूद थे। आरोप है पीड़ितों का आवेदन पत्र फेंक दिया। कोतवाल शिव शंकर सिंह के आने पर फिर थाने पर पहुंचकर अपनी पूरी बात बताई। एसएचओ ने मामले की छानबीन कर उचित कार्यवाही का आश्वासन देते हुए इन्हें वापस भेज दिया। इस दौरान दबंग उधर खेत काटते रहे। फिर तीसरे दिन दबंगों ने असलहे के बल पर उक्त खेतो की फसल को काट लिया। 

एसएचओ बैरिया शिव शंकर सिंह ने बताया कि जो बोया है, वह काटेगा के आधार पर बिहार के काश्तकार उक्त फसल काट ले गए हैं। क्योंकि वही बोए थे। मैंने जांच कराया था, जबकि नौरंगा के प्रधान सुरेंद्र ठाकुर सहित गांव के दर्जनों लोगों ने बताया कि यह खेत जो बिहारी काट ले गए उसे जनार्दन ठाकुर, राम जी ठाकुर, राम जन्म ठाकुर, सुधाकर ठाकुर, मनोज ठाकुर आदि बोए थे। यह लोग पिछले 20 साल से उक्त खेतों पर खेती करते आ रहे हैं। पहले कभी इस तरह का विवादास्पद स्थिति इस खेत पर उत्पन्न नहीं हुई थी। पीड़ितों का आरोप है, कि बैरिया पुलिस बिहारी दबंगों से मिली हुई है। क्षेत्राधिकारी अशोक कुमार मिश्र ने कहा कि जब थाना की पुलिस ने सहयोग नहीं किया तो पीड़ितों को मेरे यहां आकर मामला बताना चाहिए था। जरूर सहयोग होता। अब इसमें जो कार्यवाही होगी वह की जाएगी। वहीं एसडीएम बैरिया अभय कुमार सिंह ने उक्त मामले में पूछने पर बताया कि यह मामला मेरे पास आया था। मैंने एसएचओ से कार्यवाही के लिए आदेश दिया था। देखवाता हूं इसमें क्या कार्यवाही हुई है। प्रकरण की जांच मैं अपने स्तर से करूंगा। दोषी को बक्शा नही जायेगा।


शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments