To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

पति-पत्नी और 'वो' : प्रेमी के साथ मिलकर पत्नी ने की थी पति की हत्या, बलिया में पकड़ा गया 'वो'

बलिया। हत्या के एक मामले में बलिया पहुचीं पश्चिम बंगाल पुलिस ने गुरुवार को बांसडीहरोड थाना क्षेत्र के शंकरपुर में छापेमारी कर एक हत्यारोपी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस की पूछताछ में पकड़े गये आरोपी ने न सिर्फ अपना जुर्म कुबूल किया, बल्कि पूरी घटना की जानकारी भी दी। 

पुलिस के मुताबिक 18 जनवरी को पश्चिम बंगाल के वर्धमान जिले के अंडाल थाना क्षेत्र में वहीं पर तैनात एक लोको पायलट सत्येंद्र भास्कर की हत्या हुई थी। मामले में 19 जनवरी को पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया था। पुलिस जांच में संदिग्ध दिलीप यादव (निवासी शंकरपुर, बलिया) को ढूंढ रही थी। पुलिस के अनुसार लोको पायलट सत्येंद्र के घर के पास दिलीप की मौसी का घर था, जहां उसका आना जाना लगा रहता था। इसी दौरान उसकी दिलीप की पत्नी पूजा से आंखे चार हुई और दोनों का प्रेम परवान चढ़ने लगा।

कुछ दिनों बाद इसकी भनक सत्येंद्र को भी लग गई तो उसने पूजा को मारपीट कर उस पर पहरा लगा दिया। इससे इनका मिलना जुलना बंद हो गया। काफी प्रयास के बाद भी जब सत्येंद्र ने अपने तेवर नही बदले तो प्रेमी जोड़े ने उसे रास्ते से हटाने की योजना बनाई और उसकी गला दबा कर हत्या कर दी। फिर हत्या को आत्महत्या का रूप देने के लिए सत्येन्द्र के शव को फांसी का फंदा बनाकर लटका दिया। घटना को अंजाम देने के बाद दिलीप वापस बलिया भाग आया।

उधर, इनकी बनाई कहानी पर मृतक के रिश्तेदारों ने सवाल खड़े किए तो पुलिस ने घटनास्थल का निरीक्षण कर मामले में हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया। इस दौरान घटना में पुलिस की जांच में दिलीप का नाम प्रकाश में आया तो अंडाल पुलिस एसआई तपोश कुमार मंडल के नेतृत्व में बलिया पहुचीं और बांसडीहरोड पुलिस की मदद से दिलीप को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए अभियुक्त ने पुलिस की पूछताछ में घटना की सारी कहानी खोल कर रख दी। इसके बाद बंगाल पुलिस उसे लेकर रवाना हो गयी। घटना को लेकर क्षेत्र में हलचल मची रही।

Post a Comment

0 Comments