To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया : 'थप्पड़ कांड' में प्राथमिक शिक्षक संघ आया सामने, उठाई यह मांग

बलिया। बेसिक शिक्षा विभाग का 'थप्पड़ कांड' किस करवट बैठेगा, कुछ कहना जल्दबाजी होगा। मामले में जहां दोनों पक्ष ने एक-दूसरे के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है, वहीं बीएसए शिवनारायण सिंह ने सम्बंधित शिक्षक-शिक्षिका को सस्पेंड करते हुए तीन खंड शिक्षा अधिकारियों से भी स्पष्टीकरण तलब किया है। उधर, प्राथमिक शिक्षक संघ चिलकहर ने बीएसए की कार्रवाई पर सवाल खड़ा किया है। 

यह भी पढ़ें'थप्पड़ कांड' पर बलिया बीएसए की बड़ी कार्रवाई, शिक्षक-शिक्षिका सस्पेंड ; तीन BEO को नोटिस

प्राथमिक शिक्षक संघ चिलकहर के अध्यक्ष राधेश्याम सिंह ने सोशल मीडिया के जरिये बेसिक शिक्षा अधिकारी को पूरे मामले से अवगत कराया है। कहा है कि  नारी चौपाल कार्यक्रम के अन्तर्गत निन्दनीय घटना का अंजाम जिस महिला शिक्षक द्वारा दिया गया है, उसको निलम्बित करके उसके कार्यरत विद्यालय से 500 मीटर की दूरी पर सम्बद्ध किया गया है। निर्दोष मानवेन्द्र सिंह को भी बिना जांच कराए चिलकहर से 15 किलो मीटर दूर आरोपित शिक्षिका रंजना पाण्डेय को उनके मूल निवास स्थान पाण्डेयपुर पर सम्बद्ध किया गया है। इससे पुनः पीड़ित शिक्षक मानवेन्द्र सिंह के साथ अभद्रता हो सकती है। मानवेन्द्र सिंह को जानमाल का खतरा हो सकता है। कहा है कि बेसिक शिक्षा अधिकारी को यदि न्याय ही करना था तो आरोपित शिक्षिका रंजना पाण्डेय को चिलकहर से दूर मुरली छपरा और बैरिया क्षेत्र में जांच होने तक सम्बद्ध किए होते तो कुछ अनुभव प्राप्त होता, परन्तु ऐसा नहीं किया गया। वहीं मानवेन्द्र सिंह का मनोबल इस घटनाक्रम से टूट चुका है। उनका जो भी मनोबल बचा है, उसको आरोपित शिक्षिका की ग्राम सभा में सम्बद्ध कर तोड़ दिया गया है। प्राथमिक शिक्षक संघ चिलकहर के अध्यक्ष राधेश्याम सिंह ने बेसिक शिक्षा अधिकारी से पुनः प्रकरण में न्यायोचित पहल करने की मांग किया है।


रोहित सिंह मिथिलेश

Post a Comment

0 Comments