To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया पुलिस की व्यवस्था जांचने के बाद अपराधियों के खिलाफ डीआईजी ने दिये पांच मंत्र

बलिया। पुलिस उप महानिरीक्षक, आजमगढ़ परिक्षेत्र अखिलेश कुमार ने सोमवार को न सिर्फ पुलिस लाइन में परेड की सलामी ली, बल्कि परेड का बारीकी से निरीक्षण भी किया। इसके साथ ही पुलिस लाइन में पुलिसकर्मियों के आवासीय परिसर व आरटीसी बैरक का भ्रमण कर आरआई कार्यालय, डायल 112 कार्यालय, डीसीआर, परिवहन शाखा, जीडी/गणना कार्यालय, शास्त्रागार, स्टोर, पुलिस कैंटीन, भोजनालय, ड्रोन कैमरा आदि का वार्षिक अवलोकन भी किया। निरीक्षण के उपरांत पुलिस लाइन सभागार में पुलिस पेंशनर्स के साथ बैठक भी की। 

यह भी पढ़ेंबलिया : राम जानकी मंदिर में चोरी, चार प्रतिमाओं का मुकुट गायब

इसके बाद डीआईजी नगरा थाने पहुंचे। वहां वार्षिक निरीक्षण के क्रम में समस्त अभिलेख अपराध रजिस्टर, आर्डर बुक (न्यायालय), जनसुनवाई रजिस्टर का निरीक्षण कर अभिलेखों को ससमय अभिलेखित करने व गैंगेस्टर, गुंडा एक्ट में त्वरित कार्यवाही के लिए निर्देशित किया गया।

निरीक्षण के दौरान दिये यह निर्देश

1.भवन/परिसर की साफ सफाई व मरम्मत।  
2.थाने के समस्त कर्मचारियों से वार्ता व पुलिसकर्मियों को बीट की कार्यप्रणाली अभिसूचना व मुखबिर तन्त्र को मजबूत रखने के सम्बन्ध में दिशा निर्देश।
3.पूर्व में हुई हत्या, डकैती, लूट, नकबजनी एवं महिला संबंधी अपराधों में शामिल अपराधियों के विरूद्ध गुण्ड़ा एक्ट, गैंगेस्टर एक्ट की कार्रवाई।
4.अभ्यस्त अपराधियों की हिस्ट्रीशीट खुलवाने एवं गैंग पंजीकृत कराने की कार्रवाई।  
5.ऐसे अपराधी जिन पर गैंगेस्टर की कार्यवाही हुई हो, उन अपराधियों द्वारा अपराध में अर्जित चल-अचल सम्पत्तियों को पता लगाकर कुर्की/ जप्तीकरण की कार्रवाई की जाय।

Post a Comment

0 Comments