To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

UP Election 2022 : महाशिवरात्रि की शुभकामनाओं संग बलिया को लेकर सपा अध्यक्ष अखिलेश ने किया यह दावा

बलिया। बलिया नगर व फेफना विधान सभा क्षेत्र की सीमा पर स्थित कटरिया गांव के मैदान में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने जनसभा को सम्बोधित किया। सभी को महाशिवरात्रि की शुभकामनाएं देकर पूर्व मुख्यमंत्री ने अपनी बात शुरू की। कहा कि बलिया हमेशा देश को नई दिशा देने का काम किया है। जनता को छलने वाली भाजपा का इस बार बलिया में खाता भी नहीं खुलेगा। बलिया इस चुनाव में इतिहास कायम करने जा रहा है। भाजपा की हार के डर से 'बाबा' की नींद उड़ गई है। यूपी की जनता उनको बाय-बाय कर चुकी है। 

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि सरकार बनी तो बलिया में मेडिकल कालेज बनवाएंगे। सपा ने पुराने समाजवादी चंद्रशेखर के नाम पर यूनिवर्सिटी दी थी, भाजपा ने काम और बजट रोक दिया। कहा कि यह चुनाव छोटा मोटा चुनाव नहीं है। ये खुशहाली, संविधान और लोकतंत्र को बचाने का चुनाव है। बलिया ने हमेशा क्रांतिकारी रास्ता अपनाया है। समाजवादियों के साथ अंबेडकरवादी मिलकर संविधान बचाने में लगे हैं। इससे भाजपा की गर्मी निकल गई है। उनके नेता निराश हो चुके हैं। भाजपा सबसे झूठी पार्टी है। इससे सावधान रहने की जरूरत है। इनसे पार पाने के लिए सपा कार्यकर्ताओं को ज्यादा संघर्ष करने की जरूरत नहीं है, बस चुनाव वाले दिन वोट डालना है।आपका जोश बता रहा है कि बीजेपी के लोग शून्य रह जाएंगे। 

कहा कि अगर समाजवादी पार्टी की सरकार बनती है तो अगले पांच वर्षों तक मुफ्त राशन देंगे। इसके लिए हमने अभी से तैयारी कर ली है। भाजपा सरकार में किसानों को समय से खाद नहीं मिल रहा है। हर बोरी में पांच किग्रा वजन भी घटा दिया और दाम भी महंगा कर दिया। फिर सरकार में आए तो प्रति बोरी 10 किग्रा चोरी करेंगे। इनके शासन में देश का कोई विकास नहीं हुआ। इन्होंने हवाई जहाज और अड्डा भी बेच दिया। पिछले तीन सालों में बच्चों की पढ़ाई चौपट हो गई। बिजली के मामले में भाजपा ने उत्पादन नहीं बढ़ाया, सिर्फ रेट महंगा किया। हमारी सरकार बनने पर 300 यूनिट फ्री बिजली दी जाएगी। इससे पहले बलिया नगर सीट के प्रत्याशी पूर्व मंत्री नारद राय व फेफना से प्रत्याशी संग्राम सिंह यादव, पूर्व मंत्री अंबिका चौधरी समेत अन्य पार्टी नेताओं ने सपा अध्यक्ष का स्वागत किया। 


रोहित सिंह मिथिलेश

Post a Comment

0 Comments