To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

पीआरवी पर पलटा ट्रक, तीन पुलिसकर्मियों की मौत


उन्नाव। सफीपुर कोतवाली क्षेत्र के वजीरगंज पुलिया के निकट पीआरवी गाड़ी पर टैंकर पलटने की घटना में ती पुलिसकर्मियों की मौत हो गयी, जबकि एक सिपाही घायल हो गया। हादसे में एक बाइक सवार भी घायल है। सिपाही और युवक को अस्पताल में भेजा गया। उधर, तीन सिपाहियों की मौत से अस्पताल में मातमी सन्नाटा पसरा रहा।

सफीपुर कोतवाली की पीआरवी शुक्रवार की रात लगभग 9:30 बजे चकलवंशी की ओर से एक विवाद निपटा कर लौट रही थी। उन्नाव-हरदोई मार्ग पर सफीपुर कोतवाली क्षेत्र के नौबतपुर गांव के पास बांगरमऊ की तरफ से आ रहा दूध का टैंकर अनियंत्रित होकर पीआरवी पर पलट गया। हादसे में पीआरवी में सवार चालक हेड कांस्टेबल कृष्णेंद्र चंद्र यादव, महिला सिपाही शशिकला यादव और रीता कुशवाहा वाहन में ही दब गए। वहीं, चालक की बगल वाली सीट पर आगे बैठा कांस्टेबल आनंद कुमार दरवाजा खुलने से झटके में बाहर जा गिरा। इससे वह घायल हो गया। इसी बीच पीछे आ रहा बाइक सवार माखी थाना क्षेत्र के बक्तौरीखेड़ा निवासी सज्जन यादव भी टैंकर से टकरा कर घायल हो गया। क्रेन की मदद से पुलिस ने टैंकर को पीआरवी के ऊपर से हटवाया और दबे पुलिसकर्मियों को बाहर निकलवाया। तब तक तीनों पुलिसकर्मियों की मौत हो चुकी थी। टैंकर चालक फरार हो गया।

बिलखता रहा पति

दिवंगत महिला सिपाही शशिकला के साथ घटनास्थल से उसकी सहेली महिला सिपाही डिपल साथ आई थी। डाक्टर ने उसकी सांस चलती देख बचाने का प्रयास किया, लेकिन चंद मिनट में उसकी सांस टूट गई। यह देख वह बिलख पड़ी। इसी बीच महिला सिपाही रीता कुशवाहा को भी मृत घोषित कर दिया गया। उसके साथ रहा पति प्रभाकांत बिलख पड़ा। अस्पताल में मौजूद महिला सिपाही ही नहीं पुरुष दारोगा सिपाहियों में भी अधिकांश की आंखों से आंसू छलक पड़े।

बर्बाद हो गया सबकुछ, बेटी को कौन दूध पिलाएगा

हादसे में दिवंगत महिला सिपाही रीता कुशवाहा को डाक्टर ने जैसे ही मृत घोषित किया, पति दहाड़ मार कर रो पड़ा। अरे भगवान ये क्या किया। मेरा तो सबकुछ बर्बाद हो गया। मासूम आराध्या को अब कौन दूध पिलाएगा। यह सुन अस्पताल में मौजूद महिला सिपाही भी सुबक पड़ीं। इंसपेक्टर कोतवाली अखिलेश पांडेय ने किसी तरह उसे ढांढस बंधा शव से अलग किया। दिवंगत रीता के डेढ़ वर्ष की बेटी आराध्या है। पति लगातार मोबाइल पर बेटी व रीता की फोटो देख बिलखता रहा।

अरे! शशी ऐसे छोड़कर चली जाओगी

दिवंगत महिला सिपाही शशिकला के साथ घटनास्थल से साथ आई उसकर सहेली महिला सिपाही डिपल बोली अरे शशी इस तरह छोड़ कर चली जाओगी। यह कहकर वह फूट-फूटकर रो पड़ी। जो सिपाही दरोगा उसे ढांढस बांधा रहे थे उनकी आवाज भी भर्रा गई।

Post a Comment

0 Comments