To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया : नैतिक मतदान को अफसर अलर्ट, नहीं गलेगी किसी की 'दाल'


बैरिया, बलिया। पहले चुनाव हमेशा मनी, माफिया और मसल पॉवर के बूते लड़ा जाता था। सत्‍ता हथि‍याने में धर्म और जाति महत्‍वपूर्ण भूमि‍का नि‍भाती रही है। अब चुनाव आयोग सतर्क है। इन ति‍कड़मों की असर से विधान सभा चुनाव महफूज रखने के उपाय कि‍ए जा रहे हैं। बैरिया के निर्वाचन अधिकारी/उपजिलाधिकारी अभय कुमार सिंह ने नैतिक मतदान के प्रयोग का फैसला कि‍या है।

वोट के लिए मतदाताओं को लुभाना आम बात है। इसे लेकर बैरिया एसडीएम सख्‍त हैं। उन्‍होंने प्रलोभन देने वाले प्रत्याशि‍यों और इसका फायदा लेने वाले मतदाता पर भी कारवाई का मन बनाया है। उन्होने बताया कि 2022 के वि‍धानसभा चुनाव में मतदाताओं को जागरूक करने और मतदान में भागीदारी बढ़ाने के लि‍ए अब तक कई कार्यक्रम चलाए गये है। उनका दावा है कि इस बार मतदान का प्रतिशत बढ़ेगा। यह कार्य तो असम्भव जरूर है, पर नामुमकिन नहीं है। इसके लिए बहुत प्रयास किया गया है।

चुनाव आयोग नैतिक मतदान के जरिये जनता को बताना चाहता है कि‍ मतदाताओं ने किसी दबाव या प्रलोभन में गलत प्रत्याशी का चयन कर लिया तो उससे पांच साल तक छुटकारा नहीं मि‍लेगा। इसकी थीम भी तैयार कर ली गई है। इसके तहत अलग-अलग कार्यक्रम करके मतदाताओं को जागरूक किया गया है। युवा वोटरों की भागीदारी सबसे ज्यादा है। ऐसे में निर्वाचन आयोग चाहता है कि वोटर को उसके अधिकारों के प्रति इतना जागरूक कर दिया जाए कि वह अपने प्रत्याशी से सवाल पूछने की स्थिति में आ जाये। जिस दिन ऐसा हो जायेगा, उस दिन लोकतन्त्र का मतलब साफ हो जायेगा।


शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments