To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

यूपी की 36 एमएलसी सीटों पर भी चुनाव कार्यक्रम का ऐलान, दो चरणों में होगा चुनाव

लखनऊ। चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश विधान परिषद में स्थानीय प्राधिकारी क्षेत्र के 36 सदस्यों के चुनाव का कार्यक्रम जारी कर दिया गया है। यह चुनाव दो चरणों में होगा। पहले चरण में 29 क्षेत्रों की 30 सीटों के चुनाव की अधिसूचना 04 फरवरी को जारी होगी। मतदान तीन मार्च को होगा। वहीं, दूसरे चरण की 06 सीटों के लिए अधिसूचना 10 फरवरी को जारी होगी। मतदान 07 मार्च को होगा, जबकि मतगणना एक साथ 12 मार्च को होगी। इस चुनाव में स्थानीय निकायों के निर्वाचित प्रतिनिधि मतदान करते हैं।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने चुनाव कार्यक्रम जारी कर दिया है। पहले चरण में नामांकन पत्र चार फरवरी से 11 फरवरी के बीच भरे जाएंगे। 14 फरवरी को नामांकन पत्रों की जांच होगी 16 को नाम वापस लिए जा सकते हैं। तीन मार्च को मतदान सुबह आठ से शाम चार बजे तक होगा। इसी प्रकार दूसरे चरण की अधिसूचना 10 फरवरी को जारी होगी और 17 फरवरी तक नामांकन पत्र भरे जाएंगे। 18 फरवरी को नामांकन पत्रों की जांच होगी। 21 को नाम वापस लिए जा सकते हैं। 07 मार्च को मतदान होगा। दोनों चरणों की मतगणना एक साथ 12 मार्च को होगी। स्थानीय प्राधिकारी क्षेत्र की इन सीटों का मतदान विधान सभा चुनाव के छठे व सातवें चरण के मतदान वाले दिन ही हो रहा है।

राजनीतिक दलों का गणित बदल देती हैं 36 सीटें

100 सीटों वाली विधान परिषद में स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन क्षेत्रों की 36 सीटें यहां राजनीतिक दलों का गणित बदल देती हैं। वर्ष 2016 के चुनाव में समाजवादी पार्टी की 31 सीटें आईं थीं। दो सीटों पर पर बसपा जीती थी। रायबरेली से कांग्रेस के दिनेश प्रताप सिंह विजयी हुए थे। वहीं, बनारस से बृजेश कुमार सिंह व गाजीपुर से विशाल सिंह 'चंचल' चुने गए थे। दिनेश प्रताप सिंह बाद में भाजपा में शामिल हो गए। यह चुनाव काफी महत्वपूर्ण है, क्योंकि भाजपा इसमें अधिक से अधिक सीटें जीतकर विधान परिषद में बहुमत हासिल करना चाहेगी, जबकि सपा अपनी सीटें बचाने में जुटेगी।

Post a Comment

0 Comments