To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया : बलराम सिंह की जयंती पर 'पुस्तकालय' का उद्घाटन, सम्मानित हुए पत्रकार


मझौवां, बलिया। स्व. बलराम सिंह की 104वीं जयंती उनके पैतृक निवास दिघारगढ़ पर रिटायर्ड शिक्षक सुरेन्द्र नाथ पांडेय की अध्यक्षता में मनाई हुई। कार्यक्रम का शुभारंभ स्व. बलराम सिंह के चित्र पर पुष्प अर्पित व दीप प्रज्वलित मुख्य अतिथि विनोद सिंह एवं अन्य विशिष्ट अतिथियों ने किया। इसके साथ ही स्व. बलराम सिंह पुस्तकालय का फीता काटकर उद्घाटन किया गया। 


इस दौरान आयोजित गोष्ठी को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि विनोद सिंह ने कहा कि ऐसे लोग विरले ही पैदा होते हैं, जो जन्म से ही प्रतिभावान होते हैं। उन लोगों में से एक बलराम सिंह भी थे, जिन्होंने अपना पूरा जीवन देश सेवा में समर्पित करने के बाद गांव पर भी आकर उनकी सेवा भावना कम नहीं हुई। उनका सपना था कि गांव में भी बेहतर शैक्षणिक संस्थान हो, ताकि क्षेत्र का विकास संभव हो सकें। पिता सपने को उनके दोनो पुत्र रिटायर्ड आईजी उत्तर प्रदेश रामेंद्र विक्रम सिंह व रिटायर्ड ज्वाइंट सेक्रेट्री (भारत सरकार) अरविन्द विक्रम सिंह साकार करने में जुटे हैं। 


विशिष्ट अतिथि अयोध्या प्रसाद हिंद व प्रधान प्रतिनिधि मनोज यादव ने कहा कि व्यक्ति रहे या ना रहे उसका व्यक्तित्व अमर रहता है। उनके पुत्रों ने गांव में स्व. बलराम सिंह डिग्री कालेज व अन्य जनपदों में महाविद्यालयो की स्थापना कर उनके कृतित्व को अमर कर दिया। बसंत सिन्हा, भानु प्रताप सिंह आदि ने भी विचार प्रकट किए। इस अवसर पर कार्यक्रम आयोजक अजय सिंह व विजय बहादुर सिंह ने पत्रकारों एवं सभी अतिथि गणों का माल्यार्पण व अंग वस्त्रम् से सम्मानित किया गया। इस मौके पर विजय बहादुर सिंह, अतुल सिंह, लक्ष्मण सिंह, सुभाष सिंह, धीरेंद्र सिंह, राज नारायण तिवारी, भानु सिंह, सुधीर सिंह, अनिल सिंह, सुरेश मिश्रा, हरेराम यादव, बसंत सिन्हा, आनंद मोहन मिश्रा इत्यादि लोग मौजूद रहे। अध्यक्षता स्व. बलराम सिंह स्मारक महाविद्यालय के पूर्व प्राचार्य सुरेंद्र नाथ पांडेय एवं संचालन अर्जुन साह ने किया।

हरेराम यादव

Post a Comment

0 Comments