To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया : बजट के बाद भी शिक्षामित्रों को नहीं मिला मानदेय, जिलाध्यक्ष ने दिया अल्टीमेटम


बलिया। बेसिक शिक्षा विभाग के जिले के अधिकारियों और कर्मचारियों की लापरवाही से मामूली मानदेय पर काम करने वाले शिक्षामित्रों को समय पर मानदेय नहीं मिल पा रहा है। शासनादेश है कि शिक्षामित्रों को प्रत्येक माह की 10 तारीख तक मानदेय का भुगतान कर दिया जाए। इसके लिए लखनऊ में बैठे विभाग के उच्चाधिकारी अपने स्तर से प्रयास करके मानदेय का बजट भी भेज देते हैं, लेकिन जिले के अधिकारी और कर्मचारी काफी लापरवाही बरतते हैं, जिसकी वजह से मानदेय समय से नहीं मिल पाता है। इस माह में भी अब तक शिक्षामित्रों को नवम्बर का मानदेय नहीं मिला है, जबकि शासन की ओर से तीन दिसंबर को ही बजट जारी कर दिया गया था। 
उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षा मित्र संघ के जिलाध्यक्ष पंकज सिंह ने कहा कि एक तरफ तो शिक्षा मित्र मात्र दस हजार रुपये महीने पर काम कर रहे हैं और मानदेय भी समय पर नहीं मिलता है। बताया कि शासन की ओर से ब्लाक संसाधन केन्द्रों (बीआरसी) से जिला मुख्यालय पर शिक्षा मित्रों की उपस्थिति प्रमाणित करके भेजने और मानदेय भुगतान की तिथि निर्धारित है, लेकिन जिले में उसका पालन नहीं होता है। यहां तक कि होली, दीपावली, दशहरा, ईद जैसे त्योहारों पर भी कई बार विभाग मानदेय का भुगतान नहीं करता है। वर्तमान माह में भी वही स्थिति है। जिलाध्यक्ष ने कहा कि कुछ शिक्षा मित्रों का कई माह का मानदेय बकाया है। बार-बार आग्रह के बावजूद विभाग मानदेय का भुगतान नहीं कर रहा है। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर 15 दिसम्बर तक शिक्षामित्रों के मानदेय का भुगतान नहीं हुआ तो संघ आंदोलन शुरू करेगा।

Post a Comment

0 Comments