To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया में सात को नहीं, पांच को बजेगी 551 बेटियों की शहनाई


बलिया। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना की तैयारी राज्य सरकार काफी दिनों से कर रही है। पहले यह विवाह 7 दिसंबर को होने वाला था, लेकिन सात दिसंबर को संसद का सदन है। प्रधानमंत्री की मंत्रियों और सांसद के साथ बैठक है। इस कारण विवाह की तिथि पांच दिसंबर को नियत हुई है। उक्त बातें माननीय मंत्री उपेंद्र तिवारी ने तैयारी बैठक को संबोधित करते हुए कही।
मंत्री उपेंद्र तिवारी ने कहा कि 24 घंटे के बाद आयोजन स्थल को टेंट वाले को हस्तान्तरित कर दिया जाएगा। बताया कि कार्यक्रम की शुरुआत रामायण सर्किट टीम द्वारा किया जाएगा। जितनी शादियां होगी उतने मंडप, नाई और पंडित रहेंगे। कहा सभी शादियों को उनके इच्छुक धार्मिक रीति रिवाज से होगा। शादी कार्यक्रम संपन्न होते ही सभी वर-वधु के उपर गुलाब और गेंदा फूलो से वर्षा कराई जाएगी। कहा फेफना विधानसभा क्षेत्र के सभी बड़े बाजारों में लाइव टेलीकास्ट किया जाएगा। शादी में प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री जी लाइव आशीर्वाद देंगे। पहले से निर्धारित कलाकारों से वार्ता हो गई है। सभी सात की जगह पांच दिसंबर को आएंगे। एकाध कलाकारों से संपर्क नहीं हो पाया है। मंत्री ने कहा कि चार पहिया वाहन से जो कार्य नहीं हो सकता वह दो पहिया वाहन से हो सकती है। कहा मैं दो दिन से स्वयं कार्य कर रहा हूं। कहा शाम को मांगलिक अवसर है, इसलिए रोज सुबह सात बजे से जनजागरण अभियान की तरह जनसंपर्क अभियान चलाकर कार्यक्रम के बाबत लोगों को बताया जाएगा कि सात की जगह पांच दिसंबर को शादी है। सभी बेटियों को विवाह के बाद कलेवा (मिठाई का एक पैकैट) दिया जाएगा। बैठक में भाजपा कार्यकर्ताओं सहित जनपद स्तरीय अधिकारी मौजूद थे।

Post a Comment

1 Comments