To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया : आइआइटी एडवांस में चमका शिक्षक पुत्र उत्कर्ष, पहले प्रयास में मिली सफलता


बलिया। निरंतर मेहनत के बदौलत संसार में कुछ भी संभव है। इस बात को उत्कर्ष पांडेय ने सच साबित करके दिखाया है। शहर से सटे जनाड़ी गांव निवासी शिक्षक नमोनारायण पांडेय के पुत्र उत्कर्ष ने परिश्रम के बल पर पहले ही प्रयास में आइआइटी एडवांस की परीक्षा में सफलता प्राप्त की है। उत्कर्ष की उड़ान से उसके परिजन ही नहीं, बल्कि चहुंओर हर्ष का माहौल है। 
होली क्रास स्कूल से मैट्रिक की परीक्षा 2019 में 93.4 प्रतिशत से उत्तीर्ण करने के बाद उत्कर्ष ने न सिर्फ सीबीएसई का रुख किया, बल्कि मनःस्थली रेवती में 11वीं में प्रवेश भी ले लिया। इंटर की पढ़ाई के साथ उत्कर्ष ने आइआइटी को लक्ष्य बनाकर पूरी निष्ठा से कड़ी मेहनत की। कोरोना काल जैसे संकट के बीच उत्कर्ष ने 12वीं के साथ-साथ आइआइटी एडवांस 2021 में प्रवेश के लिए रास्ता बना लिया है। आइआइटी एडवांस में उत्कर्ष को 7002वीं रैंक मिली है।अपनी सफलता का श्रेय उत्कर्ष ने पिता नमोनारायण पांडेय व स्वास्थ्यकर्मी मां श्रीमती सुषमा पांडेय तथा सेवानिवृत्त शिक्षक बाबा प्रभुनाथ पांडेय को दिया। दो भाईयों में बड़ा उत्कर्ष ने कहा कि अगर समय के अनुसार पठन-पाठन किया जाये तो कोई भी मंजिल इंसान से दूर नहीं है। बताया कि मैं इंजिनियरिंग की पढ़ाई पूरा करने के बाद आइएएस बनकर देश की सेवा करना चाहता हूं। मेरी सोच स्टार्ट-अप जैसी कुछ अन्य विधा के जरिये भी देश को कुछ नई तरकीब देने की है। इसके लिए जितना परिश्रम करना होगा, करूंगा। उत्कर्ष का मानना है कि हम किसी क्षेत्र में मोटिवेशन के साथ उतरते हैं तो वह मेरे लिए पॉजिटिव प्वॉइंट बन जाता है। उत्कर्ष की सफलता पर अजय कुमार, शशिकांत ओझा, ब्रजभूषण पांडेय, शिवप्रकाश तिवारी, वीरबहादुर यादव, सुरेन्द्र पांडेय, उमाशंकर पांडेय, घनश्याम पांडेय, अमित शुक्ला, सुशील पांडेय, कमलेश पांडेय, राकेश तिवारी, अखिलेश ओझा, प्रेमप्रकाश सिंह पिन्टू इत्यादि ने बधाई देते हुए उज्ज्वल भविष्य की कामना की है। 

Post a Comment

0 Comments