To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया में कर्मचारी, शिक्षक और अधिकारी पेंशनर्स अधिकार मंच की शक्ति ने बढ़ाई राजनीतिक हलचल


बलिया। कर्मचारी, शिक्षक और अधिकारी पेंशनर्स अधिकार मंच के नेतृत्व में जिलाधिकारी कार्यालय पर गुरुवार को सम्पन्न धरना सरकार पर भारी पड़ता दिखा। हजारों-हजार की संख्या में जुटी शिक्षक-कर्मचारी, शिक्षामित्र, अनुदेशक व संविदा कर्मियों की उमड़ी भीड़ ने सरकार को यह बताने की कोशिश की कि उनकी चट्टानी एकता अपनी 21 सूत्रीय मांग मनवाकर रहेगी। एनपीएस वापस लो-पुरानी पेंशन बहाल करो के नारे से कलेक्ट्रेट परिसर गूंज रहा था। वक्ता नई पेंशन व पुरानी पेंशन के अंतर को बता-बता कर सरकार से सवाल दाग रहे थे कि हमें नई अपने पुरानी क्यों ? अब यह नहीं चलेगा। हमें समानता चाहिए। या तो आप भी नई लो या फिर हमें पुरानी दो। यही नहीं, वक्ताओं ने सरकार को चेतावनी भी दी। कहा कि हमारी मांगे नहीं मानी गयी तो 30 नवम्बर को लखनऊ के इको पार्क में प्रदेश के सभी जनपदों के शिक्षक कर्मचारी इकठ्ठा होकर सरकार की ईंट से ईंट बजा देंगे। कर्मचारी, शिक्षक और अधिकारी पेंशनर्स अधिकार मंच की शक्ति ने राजनीतिक हलचल बढ़ा दी है। सरकार जहां समिति गठित कर समाधान करने में जुटी है, वहीं विपक्ष सत्ता में आते ही मांगों को पूरा करने का भरोसा दे रहा है। 

धरना में शिक्षक अपने विद्यालयों व कर्मचारी अपने दफ्तरों को बन्द कर पहुंचे थे। धरना स्थल पहुंचे मुख्य राजस्व अधिकारी ने न सिर्फ ज्ञापन लिया, बल्कि ससमय मुख्यमंत्री कार्यालय तक पहुंचवाने का विश्वास भी दिलाया। धरना में राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद की अध्यक्ष सत्या सिंह, कलेक्ट्रेट संघ के अध्यक्ष व मंच के प्रधान महासचिव अनिल गुप्ता, महाविद्यालय संघ के मंत्री व मंच के वरिष्ठ उपाध्यक्ष अवनीश पाण्डेय, कौशल उपाध्याय, सुशील पाण्डेय कान्ह जी, सुशील त्रिपाठी, डा. राजेश पाण्डेय, प्राशिसं के सहसंयोजक अजय मिश्र, बृज बिहारी सिंह, पीडब्ल्यूडी के राजेश पाण्डेय, पूर्वांचल राज्य कर्मचारी संघ के ब्रजेश सिंह, महाविद्यालय संघ के अवधेश राय, दुष्यंत सिंह, लाल बाबु यादव, राम पूजन राय, संगीता वर्मा, सुनील सिंह, राधेश्याम सिंह, ज्ञानेन्द्र प्रसाद गुप्ता, तेज प्रताप सिंह, सुशील कुमार, तुषार कान्त राय, विद्या सागर दुबे, संगीता वर्मा, कमला सिंह, अक्षयवर पाण्डेय, धनंजय सिंह, अफजल, आशुतोष सिंह, अखिलेश सिंह, शक्ति सिंह, जितेन्द्र प्रताप सिंह, संतोष तिवारी, अनिल पाण्डेय, माध्यमिक के अध्यक्ष अरविन्द राय, राधेश्याम पाण्डेय, श्रीराम भाई, देव प्रकाश सिंह समेत हजारों लोग उपस्थित रहे। धरना सभा की अध्यक्षता प्राथमिक शिक्षक संघ एवं कर्मचारी, शिक्षक अधिकारी एवं पेंशनर्स अधिकार मंच के अध्यक्ष जितेन्द्र सिंह व संचालन मंत्री वेद प्रकाश पाण्डेय ने किया।


ये है मांग
मांगों में पुरानी पेंशन बहाली के साथ ही शिक्षामित्रों को नियमित करने के साथ ही अनुदेशकों, आंगनबाड़ी कार्यकर्ती व साहायिका और रसोईयों तथा सभी संविदा कर्मियों को नियमित करने और जबतक नियमित नियुक्तियां नहीं हो जाती, सम्मान जनक मानदेय दिए जाने, कैशलेस इलाज की सुविधा, राज्य कर्मचारियों व शिक्षकों तथा निगम कर्मियों की वेतन विसंगतियां दूर करने, कोरोना महामारी में दिवंगत शिक्षकों, कर्मचारियों के आश्रित को तत्कान नौकरी व पावनाओं का भुगतान तथा निगमों से सम्बन्धित कर्मियों को वर्तमान वेतन और मंहगाई भत्ता दिए जाने की मांग शामिल है। 

Post a Comment

0 Comments