To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया : मन को भा गई-दिल को छू गई प्राथमिक विद्यालय के बच्चों की यह झांकी, देखें तस्वीरें


बलिया। दुनिया में जब जब क्षमा, दया, करुणा, आपसी सौहार्द और प्रेम की बात की जाएगी, हमें गांधी याद आएंगे। महात्मा गांधी ने शोषण विहीन समाज का सपना देखा, जिससे आपसी प्रेम और भाईचारा बना रहे। इसके लिए वे जीवन पर्यंत लड़ते रहे। उक्त बातें जनपद के वरिष्ठ रंगकर्मी आशीष त्रिवेदी ने गांधी जयंती पर प्रावि अलावलपुर में आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य वक्ता कहीं। उन्होंने कहा कि धन्य है हम कि हमें गांधी जैसा नायक मिला। गांधी के साहस और उनका आत्मबल का नतीजा था कि अंग्रेजों को घुटने टेकने पड़े।


शिक्षा क्षेत्र हनुमानगंज के प्राथमिक विद्यालय अलावलपुर में महात्मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर प्रधानाध्यापक प्रदीप कुमार यादव ने कहा कि प्रत्येक बच्चे में गांधी और शास्त्री बनने की क्षमता है। जरूरत है इन्हें उचित मार्गदर्शन की। इस अवसर पर विद्यालय के बच्चों ने सांस्कृतिक कार्यक्रम के साथ दी गांधी और शास्त्री जी के जीवन पर आधारित झांकी प्रस्तुत की, जिसे लोग अपलक निहारते रहे। 


बच्चों की झांकी लोगों को खूब भायी। सभा को विद्यालय की शिक्षिका संध्या पाण्डेय ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर विद्यालय की शिक्षिका रीना चौहान, कुमकुम सिंह, प्रिया त्रिपाठी व अवधेश कुमार उपस्थित रहे। इस अवसर पर स्वच्छता हेतु शपथ शिक्षकों और बच्चों द्वारा लिया गया। सांस्कृतिक कार्यक्रम में भाग लेने वाले बच्चों को संकल्प संस्था के सचिव आशीष त्रिवेदी द्वारा पुरस्कृत किया गया। संचालन विद्यालय की सहायक अध्यापिका अंजली तोमर ने किया। 

Post a Comment

0 Comments