To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया : सपा के लिए बैरिया विधानसभा में अहम होगा 'मिशन 2022', क्योंकि...


बैरिया, बलिया। समाजवादी पार्टी के लिए 'मिशन 2022' बैरिया विधानसभा में अहम होने जा रहा है। बैरिया विधानसभा के रहने वाले टिकटार्थियों में यह मंथन चल रहा है कि सपा सुप्रीमो चाहे किसी को भी टिकट दें, पर 'बाहरी' नहीं होना चाहिए। कारण कि यह धरती क्रांतिकारियों की है। यहां कौशल किशोर सिंह, सपा के थिंकटैंक कहे जाने वाले छोटे लोहिया जनेश्वर मिश्रा, पंडित रामानंद पांडे, डॉ बलदेव उपाध्याय, हजारी प्रसाद द्विवेदी, ठाकुर मैनेजर सिंह, बनवारी राम और संपूर्ण क्रांति के प्रणेता लोगों के दिलों में अब तक राज करने वाले जयप्रकाश नारायण की धरती है।

इस मिट्टी की खुशबू दूर-दूर तक महसूस की जाती है। ऐसे में इस धरती पर किसी 'बाहरी' व्यक्ति को मिशन 2022 विधानसभा चुनाव में टिकट देकर अवसर देना, यहां के महान विभूतियों का अपमान होगा। सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव और सुप्रीमो अखिलेश यादव द्वारा दो-दो बार अवसर देने पर यहां के समाजवादियों ने अपना कर्तव्य पूरा करते हुए कार्य किया, लेकिन ऐसे क्रांतिकारियों की धरती पर समाजवादियों के बीच किसी 'बाहरी' व्यक्ति को अवसर देना यहां के समाजवादियों के लिए अपमान होगा।खासकर समाजवादियों के लिए यह शर्मिंदगी की बात होगी। इसके लिए समाजवादी पार्टी से टिकट की मांग करने वाले सभी प्रत्याशी मंथन करने में लगे हुए हैं। इस संदर्भ में समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता सूर्यभान सिंह ने बताया कि मुझे टिकट मिले या ना मिले इसकी मैं परवाह नहीं करता। मैं एक सच्चा समाजसेवी हूं। समाज की सेवा करना मेरे कर्मों में शुमार है। 

समाज सेवा करने का जज्बा मैंने लोकनायक जयप्रकाश नारायण से सीखा है। उन्हीं की प्रेरणा से मैं समाज को देखता हूं। मैं पार्टी के आजीवन सदस्य होने के नाते यह कह सकता हूं कि समाजवाद एक पवित्र सिद्धांत है। इस पर चलना बहुत ही कठिन कार्य है। लेकिन समाज की रक्षा के लिए जरूरतमंदों के सहयोग को समाजवाद के सिद्धांतों का अनुपालन मैं अक्षरसः करता हूं। यही कारण है कि विगत कई वर्षों से समाज में अनगिनत समाजवादी विचारधारा के अनुरूप कार्य किए गए। भविष्य में भी इसी सिद्धांत के तर्ज पर कार्य होते रहेंगे। लेकिन मेरी पुरजोर मांग  है कि सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव जी बैरिया विधानसभा का टिकट किसी बाहरी व्यक्ति को न देकर स्थानीय क्रांतिकारी किसी भी जाति के समाजवादी को तवज्जो देते हुए उन्हें अवसर दें। मैं इसका समर्थन करता है।


शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments