To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

नहीं रहे बलिया की पत्रकारिता को आधुनिक तेवर देने वाले विद्यासागर तिवारी


बलिया। पत्रकारिता के स्तंभ रहे विद्यासागर तिवारी का निधन शनिवार को बेंगलुरु के एक अस्पताल में उपचार के दौरान हो गया। इसकी सूचना मिलते ही मीडिया जगत स्तब्ध रह गया। हल्दी क्षेत्र के पुरास गांव निवासी विद्यासागर तिवारी न सिर्फ लेखनी के माहिर खिलाड़ी थे, बल्कि मिलनसार व्यक्तित्व के धनी भी थे। पैतृक गांव पुरास से उन्हें बहुत लगाव था। ग्रामीणों के विशेष निवेदन पर वह गांव के प्रधान भी रहे।कुशल लेखन व नेतृत्व क्षमता वाले श्री तिवारी अमर उजाला व दैनिक जागरण के ब्यूरो चीफ रहे। 
पत्रकारिता के क्षेत्र में इलाहाबाद मुख्यालय से समाचार पत्र आज दैनिक से प्रवेश करने वाले विद्यासागर तिवारी ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय से विधि स्नातक की शिक्षा ग्रहण की। अनोखे समाचारों और संपादकीय टिप्पणियों के साथ बलिया जनपद में अमर उजाला का शुभारंभ किया। इसके बाद उन्होंने दैनिक जागरण के संपादकीय प्रभारी का पदभार बलिया और मऊ जनपद में सम्भाला। पत्रकारिता में अलग पहचान बनाते हुए विगत वर्ष दैनिक जागरण के प्रभारी संपादकीय के रूप में सेवानिवृत्त हुए। अपने तीन भाइयों में सबसे छोटे विद्यासागर तिवारी शांत और व्यवहार कुशल होने के साथ-साथ सहयोगी प्रवृति की वजह से सभी क्षेत्रों में जाने-पहचाने गए। अपने अधीनस्थों का सहयोग और उन्हें आगे बढ़ाने में सदैव योगदान करने वाले तिवारी जी के निधन का समाचार मिलते ही लोग स्तब्ध रह गये। 

Post a Comment

0 Comments