To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया : जीवित्पुत्रिका व्रत पर घर की महिलाओं संग स्नान करने गई पांच लड़कियां डूबी, बचाई गयी तीन ; एक की मौत


बांसडीह, बलिया। बांसडीह कोतवाली क्षेत्र के खेवसड गांव से सटे घाघरा नदी के कुड़िया घाट पर जीवित्पुत्रिका व्रत पर स्नान करते समय पांच लड़किया डूब गयी। इनमें से ग्रमीणों ने तीन सकुशल बाहर निकाल लिया, लेकिन दो का पता नहीं चल सका। गोताखोरों की कड़ी मेहनत से एक लड़की का शव बरामद कर लिया गया, लेकिन एक की अभी भी तलाश जारी है। इस घटना से क्षेत्र में शोक की लहर है।


बुधवार की शाम खेवसड ग्राम सभा से सटे सरयू नदी के किनारे कुड़िया घाट पर जिउतिया पर्व के स्नान के लिए बड़ी संख्या में महिलाएं गयी थी। कुछ के साथ घर के बच्चे भी चले गये थे।स्नान करते समय गहरे पानी में जाने से रीना, गोल्डी, नीतू, खुशबू और गोल्डी नदी में डूबने लगी। इससे घाट पर हड़कम्प मच गया। 


हो हल्ला के बाद मौके पर उपस्थित ग्रामीणों ने तीन लड़कियों को बचा लिया, जबकि दो लापता हो गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने गोताखोरों की मदद से लड़कियों की तलाश कराई, लेकिन रात तक पता नहीं चला। गुरूवार की सुबह रीना पुत्री हरदेव यादव (निवासी राजगांव खरौनी) का शव बरामद हुआ, जबकि डूबी गोल्डी पुत्री रामजी यादव का अभी कुछ पता नहीं चल सका है। एनडीआरएफ और पुलिस उसकी तलाश में जुटी हैं। एसडीएम दुष्यंत मौर्य, सीओ प्रीति त्रिपाठी व तहसीलदार प्रवीण वर्मा मौके पर मौजूद हैं। घटना से हर कोई आहत में है।


विजय कुमार गुप्ता

Post a Comment

0 Comments