To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया : भाजपा संग सपा पर भी व्यंगबाण चला गये बसपा के राष्ट्रीय महासचिव


बलिया। प्रबुद्ध वर्ग संगोष्ठी में बसपा के राष्ट्रीय महासचिव व राज्यसभा सांसद सतीश चंद्र मिश्र ने प्रदेश सरकार पर ब्राह्मणों को टारगेट करने का आरोप लगाया। बसपा नेता ने 'हाथी नहीं गणेश हैं, ब्रह्मा विष्णु महेश हैं' और 'जय परशुराम' के नारे के साथ संगोष्ठी का आगाज करते हुए ब्राह्मण वोटों को सहेजने की भरपूर कोशिश की। भाजपा सरकार और समाजवादी पार्टी को निशाने पर लेते हुए सतीश चंद्र मिश्र ने बसपा के पक्ष में जुटने की अपील ब्राह्मणों से की।

भृगु आश्रम में आयोजित कार्यक्रम में राज्यसभा सांसद ने कहा कि विधानसभा चुनाव में बसपा किसी दल से नहीं, जनता के दिल से गठबंधन करेगी। ब्राह्मणों का मान सम्मान-स्वाभिमान सब लौटने का काम पहले भी किया है, आगे भी करेंगे। भाजपा शासन में दलितों और ब्राह्मणों को डराने-धमकाने का काम हो रहा है। प्रदेश में ब्राह्मणों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। फर्जी मुकदमों में जेल में डाला जा रहा है, अन्यथा मार दिया जा रहा है। भाजपा ने श्रीराम को भी नहीं छोड़ा और अपने कार्यकर्ताओं को घर-घर भेजकर 10 हजार करोड़ रुपये कमा लिए। भाजपा के साथ सपा को भी बसपा नेता ने टारगेट किया। 

कहा कि दोनों की सोच एक जैसी है। महंगाई इतनी हो गई है कि बेरोजगार पकौड़े भी नहीं बेच पाएंगे। सत्ता में आने के पहले भाजपा के लोगों ने हर साल दो करोड़ नौकरी देने का वादा किया था, लेकिन सत्ता में आने के बाद नौजवानों को ठगा गया। बिकरू कांड का जिक्र करते हुए बसपा ने कहा कि भाजपा ने पूरे प्रदेश में डर का माहौल तैयार कर दिया है। 

ब्राह्मण समाज के लोगों को घरों से उठाकर एनकाउंटर कराने में सरकारी मशीनरी का इस्तेमाल किया गया। खुशी दुबे के हाथ की मेहंदी भी नहीं छूटी और झूठी वाहवाही के लिए उसे जेल में बंद कर दिया गया। आरोप लगाया कि असलियत सामने आने के डर से उसकी जमानत नहीं होने दी जा रही है। पूर्व की समाजवादी पार्टी की सरकार पर भी तंज कसते हुए कहा कि उनके शासनकाल में भी ब्राह्मणों पर खूब अत्याचार हुए हैं, जबकि बसपा के राज में ब्राह्मणों को पर्याप्त सम्मान दिया जाता था।

Post a Comment

0 Comments