To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया : युगों-युगों तक राष्द्रभक्ति की प्रेरणा देती रहेगी शहीद वृंदावन तिवारी की शहादत


चितबड़ागांव, बलिया। स्वतंत्रता संग्राम के अमर शहीद वृंदावन तिवारी की शहादत दिवस पर सोमवार को शहीद स्मारक पर आयोजित कार्यक्रम में वक्ताओं ने स्वतंत्रता आंदोलन में चितबड़ागांव के आंदोलनकारियों के जुझारूपन की चर्चा करते हुए उनके त्याग और बलिदान को स्मरण किया। शहीद स्मारक संरक्षण समिति चितबड़ागांव द्वारा आयोजित समारोह में नगर पंचायत चितबड़ागांव के चेयरमैन केशरी नंदन त्रिपाठी ने कहा कि स्वतंत्रता संग्राम में चितबड़ागांव के सेनानियों के त्याग और बलिदान को अविस्मरणीय बनाए रखने के लिए शहीद स्मारक का सुंदरीकरण नगर पंचायत प्रशासन द्वारा कराया जा रहा है। कहा कि बड़ी कठिनाई से मिली आजादी को अक्षुण्ण बनाए रखने के लिए सामाजिक समरसता, भाईचारा और राष्ट्र की समृद्धि में युवा पीढ़ी अपनी ऊर्जा का उपयोग करे। उन्होंने आयोजन समिति को आयोजन के लिए धन्यवाद दिया। 


पत्रकार शशिकांत मिश्र ने कहा कि नगर की गौरवशाली विरासत को कायम रखने के लिए सभी समुदायों को एक साथ मिलकर काम करना होगा, ताकि चितबड़ागांव का सांस्कृतिक, आध्यात्मिक व सामाजिक ताना-बाना और अधिक मजबूत बन सके। कार्यक्रम में स्वतंत्रता सेनानी आश्रित अम्बरीश तिवारी, शम्भू नाथ सिंह, अधिवक्ता धीरेंद्र नाथ तिवारी, ओम प्रकाश वर्मा, विवेक सिंह कौशिक, श्यामबदन सिंह, शिवपूजन किरानी, अभिराम त्रिपाठी सहित नगर के सेनानी आश्रित तथा गणमान्य लोगों ने अपने विचार रखा। अध्यक्षता शहीद स्मारक संरक्षण समिति के अध्यक्ष दयानंद तिवारी तथा संचालन पूर्व चेयरमैन बृज कुमार सिंह ने किया।

पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह को दी श्रद्धांजलि
दिवंगत पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की स्मृति में दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धा सुमन अर्पित किया। अमर शहीद बृंदावन तिवारी के पौत्र संजय उपाध्याय ने आगंतुकों के प्रति आभार व्यक्त किया। 

अम्बरीश तिवारी 'महादेव'

Post a Comment

0 Comments