To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया : सोशल मीडिया पर व्यंगबाजी के बीच सपा नेता सूर्यभान सिंह ने कही बड़ी बात


बैरिया, बलिया। 363 विधान सभा के सपा से टिकटार्थी नेता सोशल मीडिया पर हमेशा टिकट को लेकर लोग अपना-अपना पक्ष रखते रहते हैं, जिसे लोग पचा नहीं पा रहे है। यहीं नहीं, आपस में एक दूसरे के प्रति टिप्पणी का दौर भी शुरू है, जो कही से किसी के हित में नहीं है। समाज में कब किससे जरूरत पड़ जाय, यह कोई नहीं जानता। कौन किसके काम आ जाय, यह नेताओं को सोचना चाहिये। संस्कारिक बन कर समाज में रहना चाहिये। निजी स्वार्थ के आधार पर गलत टीका टिप्पणी से बचना चाहिये। सभी नेता समाजवादी हैं तो किसी एक को टिकट मिले, उसे स्वीकार करने की क्षमता रखना चाहिये। यदि कोई भी अमर्यादित व्यवहार करता हैं, वह दल का वफादार नहीं हो सकता।

इस सन्दर्भ मे सपा नेता सूर्यभान सिंह ने बताया कि व्यक्ति विशेष और एक जाती के वफादार का प्रमाण पत्र मिले, इसे ही समाप्त करने के लिये मैंने 'सर्व समाज भाईचारा सबका साथ सबका सम्मान' कार्यक्रम की तैयारी कर रहा हूं, ताकि जातिवाद को खत्म किया जा सके। जातिवाद पर चल कर कुछ होने वाला नहीं है। यह एक ऐसा जहर हैं, जो धीरे धीरे खोखला कर देता हैं। जीता जागता प्रमाण बसपा है। उन्होने पार्टी के सभी नेता से अपील किया है कि अपने स्वार्थ के लिये हम सब अपने नेता का सम्मान गिराने का काम न करे। तभी हमारे नेता आगे बढ़ेंगे और जब हमारा मुखिया आगे बढ़ेंगे, तब हमें आगे बढ़ने से कौन रोक सकता हैं। यह सुझाव विचारणीय है। मिशन 2022 के लिए सबको तैयार होना होगा। इन्सान का अधिकार कर्म पर है, फल पर नहीं। कर्म के हिसाब से ही उसे प्रतिफल मिलता हैं। सफल होना न होना भाग्य की बात हैं। इसलिये अनावश्यक अच्छे सम्बन्ध और भाईचारा को हमें ठीक रखना होगा। जिसके भाग्य में जो होगा वो होकर रहेगा। इसलिये समाजवाद के सिद्धान्तों को अपने स्वार्थ के लिये हमें बिगाड़ना नहीं चाहिए। पार्टी हाई कमान से टिकट का आवेदन किया हूं। यदि मैं गलत व्यक्ति हूं तो शिकायत कर मेरा आवेदन कोई निरस्त करा सकता है। पर इस पर विचार होना चाहिए की गलत व्यक्ति के हाथ में 363 बैरिया विधान सभा का कमान नहीं रहना चाहिये। नहीं तो बाद में पछताना पड़ेगा। निर्णय जनता को करना हैं।

शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments