To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया में बाढ़ की चपेट में 130 गांव, अब तक 06 मौतें और...


बलिया। गंगा व घाघरा में आई बाढ़ से जिले के 130 गांव की 1,69,310 आबादी प्रभावित है। इसमें आबादी व कृषि प्रभावित वाले 84 गांव हैं, जबकि केवल कृषि प्रभावित 46। गंगा नदी के जलस्तर में बृद्वि के कारण तहसील बैरिया के ग्राम गोपालपुर, केहरपुर, कोड़हरा नौबरार, इब्रामिबाद नौबरार, रामपुर कोड़हरा, जगदेवा, नौरंगा, दयाछपरा, टेगरही, चांददियर, भुआल छपरा, भगवानपुर, बहुआरा, शिवपुर कपूर दियर, मुरारपट्टी, हृदयपुर, वशिष्ट नगर, गोपालनगर, शिवाल, व तहसील सदर के ग्राम कोट, मझरिया, मुड़ाडीह, बेलहरी, गंगापुर, शिवपुर दियर नम्बरी, शिवपुर दियर सोमाली, शिवपुर दियर प्रान पुर, रामपुर चिट, पिपरा खुर्द, यारपुर, बेदुआ, नेमछपरा, उदवन्त छपरा, हल्दी, भरसौता, हृदय चक, बघउच, गंगहरा के मठिया, बहादुरपुर मु. ओझवलिया, जवही, सुल्तानपुर, मुरकी, मोहम्मदपुर, कंसपुर, चन्दनपुर, बनकटा, ओझा कछुआ, दुबहड़, बजरहा, चैनछपरा, मझौवा, वजीरापुर, माल्देपुर, हैबतपुर, खोरीपाकड़, भीमपट्टी, भेलसड़, जगदीशपुर, चेरूईया, छोटकी नरही, धरनीपुर, दरामपुर, रामपुर एकौना, सुजानीपुर, रेपुरा, बसारिखपाह कुल 66 ग्रामो में बाढ की स्थिति बनी हुई है। 

जनपद के सरयू नदी के गेज स्थल तुर्तीपार में जल स्तर 64.33 मीटर है, जो खतरा बिन्दु 64.01मीटर से लगभग 0.320 मीटर ऊपर है। नदी की प्रवृत्ति बढाव पर है। सरयू नदी के जल स्तर में वृद्वि एवं अतिवृष्टि के कारण हुए जल जमाव से तहसील बांसडीह के ग्राम कोलकला, दियरभागर, कचनार, गभीरार दियरा, चकविलियम, चितबिसाव कलां, रेगहा, किर्तुपुर, पर्वतपुर, मुड़ियारी, देवरार, रामपुर नम्बरी, भोजपुरवा, खेवसड़, मनियरखास, जानपाह, सुल्तानपुर ता. बांसडीह, चांदपुर कुल 18 ग्राम में आशिक रूप पानी आ चुका है जिससे आबादी प्रभावित हुई है। जनपद बलिया में बाढ से 17 अगस्त तक 06 जनहानि हुई है, जिसके सापेक्ष 06 मृतक के वारिस को 4-4 लाख की सहायता उपलब्ध करा दी गयी है।

राजस्व विभाग द्वारा तीनों तहसीलों में 39 बाढ चौकी स्थापित कर संचालित की जा रही है। 16 राहत शिविर क्रियाशील है। जनपद में स्वास्थ्य विभाग द्वारा 28 मेडिकल टीम तथा 02 मोबाइल मेडिकल टीम की तैनाती की गयी है। मेडिकल टीम द्वारा 8114 व्यक्तियों का उपचार किया गया है। स्वास्थ्य एवं जीवन रक्षा हेतु दवाओं के 3078 किट का वितरण किया गया है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा 33 बाढ़ प्रभावित ग्रामों का सर्वे कराया गया। सर्वे में 37 गम्भीर रोगी पाये गये जिनका पूर्व से इलाज चल रहा है। पशुपालन विभाग द्वारा 21 पशु शिविर स्थापित कर कुल 3331 पशुओं का उपचार, 5923 पशुओ का टीकाकरण तथा पशुओ के चारे के लिए 591 कुन्तल भूसे का वितरण किया गया है। बाढ से बचाव कार्य हेतु एक टीम एनडीआरएफ, एक टीम एसडीआरएफ एवं एक टीम पीएसी (जल पुलिस) की तैनाती की गयी है। जिनके पास 12 स्टीमरयुक्त रबर बोट्स है। 

तहसील बैरिया में बाढ से प्रभावित 653 परिवारों को बंधे पर विस्थापित किया गया है। बाढ से प्रभावित व्यक्तियों को सुरक्षित  स्थान पर पहुचाने तथा आवागमन के  लिए जनपद में कुल 606 नावो का प्रयोग किया जा रहा है। तहसील बैरिया एवं तहसील सदर बलिया में 82000 लंच पैकेट, 1741 खाद्यान्न सामग्री का पैकेट व 3200 तिरपाल का वितरण किया गया है। वर्तमान समय में बलिया-बैरिया तटबन्ध (एनएच 31) पूरी तरह सुरक्षित है। सतर्क निगरानी रखी जा रही है।

Post a Comment

0 Comments