To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

बलिया : फिर भी नहीं थमा विवाद


बैरिया, बलिया। उप जिला मजिस्ट्रेट न्यायालय के आदेश पर तहसीलदार शिवसागर दुबे ने बलिहार मौजा में पत्थर नसब व पैमाइस कराकर कटान पीड़ित को कब्जा तो दिला दिया। तहसील व पुलिस प्रशासन के आदेश पर बुधवार को निर्माण कार्य भी शुरू हो गया।पुलिस की मौजूदगी से उस समय सब कुछ शांत रहा, लेकिन दूसरे दिन बृहस्पतिवार को ज्योही निर्माण कार्य शुरू हुआ, दूसरे पक्ष ने रोक दिया। कुछ निर्माण कार्य में तोड़फोड़ भी हुआ। इससे एक बार फिर कटान पीड़ितों को अपने ही जमीन पर घर बनाने का सपना अधूरा रह गया।

गौरतलब हो कि विगत पांच वर्ष पूर्व चौबेछपरा निवासी हृदयानन्द मिश्र, अमरनाथ मिश्र व मंजू देवी पत्नी स्व शशिकांत मिश्र का मकान गंगा नदी में विलीन हो गया।तब से उक्त परिवार रिश्तेदारों के यहां शरण लिए हुए है। इसी बीच कटान पीड़ितों द्वारा घर बनाने के लिए बलिहार मौजा में जमीन की खरीदा गया। लेकिन कुछ लोग कब्जा दखल में गतिरोध करते रहे। उपजिला मजिस्ट्रेट बैरिया न्यायालय के आदेश पर 28 मार्च को तहसीलदार शिवसागर दुबे ने राजस्व व पुलिस फोर्स के साथ पैमाइस कराकर पत्थर नसब करा दिया। बावजूद कटान पीड़ितों को घर का निर्माण में गतिरोध बना हुआ है। परेशान कटान पीड़ित जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक से लगायत तहसील प्रशासन के यहां गुहार लगाया, जिससे एक बार फिर बुधवार को तहसीलदार शिवसागर दुबे राजस्व व पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंचकर शिकायतकर्ता की भूमि का पैमाइस कर उनके शिकायतों का निस्तारण कर कटान पीड़ितों को निर्माण कार्य करने का आदेश दे दिया। उस समय पुलिस के मौजूदगी के वजह से सबकुछ शांत रहा।लेकिन दूसरे दिन जब निर्माण कार्य शुरू कार्य ठप करा दिया गया। कटान पीड़ित ने जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक से न्याय की गुहार लगाया है। इस बावत थानाध्यक्ष हल्दी राजकुमार सिंह ने कहा कि बुधवार को तहसीलदार की उपस्थिति में मामले का निस्तारण कराकर निर्माण कार्य शुरू करा दिया गया था। दूसरे दिन फिर विवाद होने की सूचना मिली है। नियमानुसार कानूनी कार्रवाई किया जाएगा।

शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments