To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

बलिया : बैरिया तहसील पर बड़ी हुजूम में पहुंचे सपाई, फिर...


बैरिया, बलिया। सपा के शीर्ष नेतृत्व के निर्देशन पर बृहस्पतिवार को बैरिया विधानसभा के कार्यकर्ताओं ने बृहद जुलूस निकाल कर महामहिम राज्यपाल के नाम सम्बोधित अपने 14 सूत्रीय मांग पत्र उपजिलाधिकारी बैरिया प्रशान्त कुमार नायक को सौंपा।

प्रदेश सरकार द्वारा पंचायत चुनाव के दौरान प्रशासन को आगे कर जिलापंचायत अध्यक्ष व ब्लाक प्रमुख के चुनाव में धांधली, गुंडई , सत्ता का दुरूपयोग व लोकतांत्रिक मर्यादाओं को तार-तार करने का आरोप लगाते हुए सपाइयों ने जमकर नारेबाजी भी की। अपने पत्रक में किसानों के समर्थन मूल्य, गन्ने का बकाया मूल्य का भुगतान, काला कृषि कानून को वापस लेने, डीजल, पेट्रौल, रसोई गैस तथा खाद-बीज, कीटनाशक दवाओं तथा कृषि यंत्रों मे बेतहाशा मूल्यवृद्धि, युवाओं को रोजगार, स्वास्थय सेवा मे बदइन्तजामी, प्रदेश में बढ़ते अपराध व गिरते कानून व्यवस्था के साथ-साथ समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं का उत्पीड़न व फर्जी मुकदमो में  बन्द करने आदि मांग शामिल है।


सपाजनों ने अपने पत्रक में महामहिम राज्यपाल से गुहार लगाई है कि यह सरकार जनहित के सभी मुद्दों पर फेल हो चुकी है। प्रदेश में भ्रष्टाचार, अनाचार, दुराचार व्याप्त है। महिलाओं की इज्जत व सुरक्षा भी खतरे में पड़ गया है। ऐसे में जनहित में भाजपा सरकार को तत्काल बर्खास्त किया जाय। निर्धारित कार्यक्रम के तहत 11 बजे सैकडों की संख्या में सपा कार्यकर्ताओं ने जुलूस निकाल कर तहसील के लिए मार्च किया, परन्तु बीच रास्ते में ही बैरिया थानाध्यक्ष व क्षेत्राधिकारी ने भारी पुलिसबल के साथ रोक दिया। कहा कि कोविड-19 के प्रोटोकाल के तहत केवल पांच लोग ही तहसील परिसर में पत्रक देने जाएंगे। इस विषय को लेकर सपा कार्यकर्ताओं व पुलिस के बीच काफी नोक-झोंक भी हुई। अन्ततः सपा कार्यकर्ता तहसील परिसर में घुसकर जमीन बैठ गये। सरकार व प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करने लगे और उपजिलाधिकारी को पत्रक सौपा। 

पत्रक देने वालों में प्रमुख रूप से पूर्व विधायक जयप्रकाश अंचल, सुबाष यादव, सपा के वरिष्ट नेता सूर्यभान सिंह, तारकेश्वर मिश्र, रामेश्वर पासवान, जयप्रकाश यादव मुन्ना ,शैलेश सिंह, संजय नट, राजप्रताप यादव, उमेश यादव, काली चरण बिन्द, विजय कान्त सिंह, अजय सिंह,शिवशरण तिवारी,राम किशुन पासवान, बिरेन्द्र यादव, राजनारायण पासवान, राकेश वर्मा, राजकुमार पाण्डेय, अरविन्द तिवारी, अनूप वर्मा, चन्द्रशेखर, दिनेश यादव,मुबारक अल्ली, सुरेश कनौजिया, रामबली यादव, अरूण सिंह, हीरा यादव, किसुन बिहारी गोड़, सत्येन्द्र यादव तथा सन्तोष यादव 'साधु' आदि शामिल रहे।


शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments