To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

गाय ने बचाई बछड़े की जान, अस्पताल में युवती से हैवानियत, गरमाई सियासत


बछड़े को बचाने के लिए तेन्दुए से भिड़ी गाय 


बहराइच। वन्य जीव विहार के कतर्निया घाट रेंज के कैलाशपुरी गांव में श्रवण के अहाते में एक गाय बछड़े के साथ बंधी थी, तभी जंगल से निकल कर तेंदुए ने बछड़े पर झपट्टा मार दिया। लेकिन मां तो मां होती है। अपने बछड़े पर हो रहे हमले को देख गाय न सिर्फ पूरी ताकत से खूंटा तोड़ी, बल्कि तेन्दुए से भिड़ गई। अंततः तेन्दुआ पीछे हटा, जिससे बछड़ा की जान बच गई। यही नहीं, अपने बच्चे को तेन्दुए के चंगुल से छुड़ाने के बाद गाय लगभग 100 मीटर तक तेन्दुए को दौड़ाती रही। 


पूर्वी उत्तर प्रदेश में बसपा की धुरी माने जाते थे दोनों नेता

लखनऊ। 2022 विधानसभा चुनाव से पहले बसपा मुखिया ने कद्दावर नेता लालजी वर्मा .और रामअचल राजभर को पार्टी से बाहर क्यों की, इस पर राजनीतिक गलियारे में मंथन का दौर शुरू हो चुका है। दोनों नेताओं के समर्थकों के होश उड़ गए हैं। 
लालजी वर्मा कटेहरी से विधायक और सदन में विधायक दल के नेता हैं। वे कई बार मंत्री रह चुके हैं। रामलखन वर्मा के बाद लालजी कर्मा का पूर्वांचल में अच्छा खासा वर्चस्व माना जाता है। वहीं, अकबरपुर से विधायक रामअचल राजभर राजभर बिरादरी को बसपा में सहेजने का कार्य करते रहे है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष से लेकर राष्ट्रीय सचिव और महासचिव तक की भी इन्होंने जिम्मेदारी निभाई है। कई बार मंत्री भी रहे है। आज नौबत यह है कि पार्टी नेतृत्व ने संगठन को इन दोनों नेताओं को पार्टी के किसी भी कार्यक्रम में न बुलाने का भी निर्देश दिया है। अब दोनों नेताओं का अगला रूख क्या होगा, इस पर अटकलों का दौर जारी है। 

अस्पतला में युवती से हैवानियत

मेरठ। शहर के एक अस्पताल के आईसीयू में भर्ती युवती को नशे का इंजेक्शन देकर वार्ड ब्वॉय ने अपनी हवस का शिकार बनाया। यह घटना सीसीटीवी में कैद हो गई। युव‍ती जब डिस्‍चार्ज होकर घर पहुंची तो उसने पूरा मामला परिजनों को बताया। अस्‍पताल पहुंचे परिजनों ने हंगामा कर दिया। अस्पताल प्रबंधन ने सीसीटीवी की फुटेज निकाली तो पूरे मामले का खुलासा हो गया। मामले का खुलासा होने के बाद अस्पताल प्रबंधन बचाव की मुद्रा में आ गया है और उनसे वार्ड ब्वाय को निकालकर अपना पल्ला झाड लिया है। पीडित युवती के परिजनों में थाने में तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है। आरोप है कि 27 मई की रात के साढ़े तीन बजे आईसीयू में तैनात वार्ड ब्‍वॉय ने युवती को पहले नशे का इंजेक्शन लगाया और उसके बाद उसके साथ हैवानियत की। पुलिस मामले की जांच कर जा रही है। वहीं, अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि आरोपी युवक उनके अस्पताल में काम नहीं करता।

Post a Comment

0 Comments