To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

भ्रष्टाचार पर एक्शन, तीन SDM को डिमोट कर बनाया गया तहसीलदार


लखनऊ। जमीन संबंधी प्रकरण में गड़बड़ी के दोषी तीन एसडीएम को तहसीलदार के पद पर पदावनत किया है। साथ ही इन अधिकारियों को राजस्व परिषद से संबद्ध कर दिया गया है।
एसडीएम प्रयागराज रामजीत मौर्य ने मीरजापुर में तहसीलदार के पद पर तैनाती के दौरान नियमों की अनदेखी कर फैसला दिया था। यह जमीन करोड़ों रुपये में बताई जा रही है। मामले की जांच में रामजीत मौर्य दोषी पाए गए। वही, एसडीएम श्रावस्ती जेपी चौहान पीलीभीत में तहसीलदार के पद पर रहते हुए एक मामले में मनमाना फैसला  दिया था। इस जमीन की कीमत भी काफी अधिक बताई जा रही है। तीसरा मामला एसडीएम मुरादाबाद अजय कुमार से जुड़ा है। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण में तैनाती के दौरान इन्होंने भी एक जमीन के मामले में नियमों को ताक पर रखा। आरोप है कि अधिग्रहण के बावजूद इस जमीन को एक प्रभावशाली व्यक्ति को देने के लिए छोड़ा गया। 

Post a Comment

0 Comments