To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

इस खास दिवस पर पूर्वोत्तर रेलवे ने 08 लाख लोगों को भेजा एसएमएस, ताकि...


वाराणसी। पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी मंडल पर गुरुवार को अन्तर्राष्ट्रीय समपार जागरूकता दिवस के रूप में मनाया गया। मंडल रेल प्रबंधक विजय कुमार पंजियार के निर्देशन एवं वरिष्ठ मंडल संरक्षा अधिकारी मनीष कुमार के नेतृत्व में समपार दिवस पर दुर्घटनाओं की रोकथाम हेतु आम जनता को अपनायी जाने वाली सावधानियों के प्रति जागरूक किया गया। इसके साथ ही वाराणसी मंडल के विभिन्न रेल खण्डों पर पड़ने वाले समपार फाटकों एवं इसके आसपास में अनेक प्रकार के जागरूकता अभियान चलाये गए। 
‘जीवन समय से ज्यादा मूल्यवान है, समपारों को पार करने में सावधानी बरतें‘, ‘समपारों के बन्द होने की स्थिति में उसके नीचे से न जांये‘ तथा ‘समपार खोलने के लिये गेटमैन पर अनर्गल दबाव न बनायें‘ स्लोगन का व्यापक प्रचार-प्रसार किया गया। 08 लाख मोबाइल उपभोक्ताओं को एसएमएस के माध्यम से इन संदेशों को भेजकर जागरूक किया जा रहा है। वाराणसी मंडल के संवेदनशील एवं भीड़-भाड़ वाले समपारों के निकट क्षेत्रीय की जनता को जागरूक करने के लिये नुक्कड़ नाटक का आयोजन किया गया।
 
संरक्षा जागरूकता कार्यक्रम के अन्तर्गत वरिष्ठ मंडल संरक्षा अधिकारी मनीष कुमार एवं सेफ्टी काउंसलरों की टीम द्वारा संरक्षा के संदेश लिखे हुये बैनर एवं पोस्टर के माध्यमों से समपारों को पार करते समय अपनायी जाने वाली सावधानियों के सम्बन्ध में आमजन को जागरूक किया गया। मंडल के प्रमुख स्टेशनों पर संरक्षा संदेश प्रसारित किये जा रहे हैं। उल्लेखनीय है कि बड़ी लाइन के सभी अमानवित समपारों को पूर्व में ही समाप्त किया जा चुका है। अब मानवित यानि रक्षित समपारों को भी रोड अण्डर ब्रिज/रोड ओवर ब्रिज के माध्यम से चरणबद्व तरीके से समाप्त किया जा रहा हैे। इन्हीं प्रयासों का फल है कि पिछले वर्ष समपारों पर कोई भी परिणामी दुर्घटना नहीं हुई।सेफ्टी काउंसलरों द्वारा कोविड-19 से बचाव से सम्बन्धित सावधानियों का पालन करते हुये वाराणसी मंडल के विभिन्न समपार फाटक पर जन-जागरूकता अभियान चलाया गया।

Post a Comment

0 Comments