To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

सहायक अध्यापिका थी प्रियंका


वाराणसी। रास्ते को लेकर पट्टीदारों में मारपीट के दौरान बीच-बचाव करने पहुंचीं एक पक्ष की प्रियंका प्रजापति (35) की मौत सिर पर गंभीर चोट आने से हो गई। प्रियंका जौनपुर जनपद में प्राथमिक विद्यालय में शिक्षिका थी। मामला मंडुवाडीह के कन्दवा का है। 

कंदवा निवासी दिनेश प्रजापति व दीपक पट्टीदार हैं। रास्ते को लेकर दोनों में काफी समय से विवाद था। सोमवार को मामला थाने भी पहुंचा था। दोनों पक्ष को मंगलवार की सुबह 10 बजे थाने बुलाया गया था। इससे पहले ही दोनों पक्ष में मारपीट हो गई।  मारपीट के दौरान दिनेश की पत्नी प्रियंका बीच-बचाव करने पहुंची। इस दौरान सिर पर रॉड से गंभीर चोट आने से वह अचेत होकर गिर पड़ी। उन्हें बीएचयू ट्रामा सेंटर पहुंचाया गया, जहां चिकित्सको ने मृत घोषित कर दिया। दिनेश प्रजापति बीएचयू में तकनीशियन हैं। 

घटना के बाद बेटी अंकिता मां प्रियंका का मोबाइल अपने हाथ में लिए थी। अंकिता को विश्वास नहीं हो रहा था कि उसकी मां अब नहीं रही। अंकिता रह-रहकर भाई चिंटू को एकटक देखती तो मां को ढूंढ़ने के लिए घर के कमरों में दौड़ पड़ रही थी। उधर, प्रियंका के देवर की तहरीर पर मंडुवाडीह पुलिस ने दीपक प्रजापति, राजेन्द्र, रवि, श्रीराम, प्रकाश प्रजापति व एक किशोर पर हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। वहीं, कन्नू यादव पर साजिश रचने का आरोप है। घटना के बाद दीपक ने खुद डीरेका पुलिस चौकी पहुंचकर आत्मसमर्पण कर दिया। 

Post a Comment

0 Comments