To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

यूपी के बेसिक शिक्षा मंत्री डा. सतीश द्विवेदी के भाई का इस्तीफा, EWS कोटे से बने थे असिस्टेंट प्रोफेसर


लखनऊ। सिद्धार्थ विश्‍वविद्यालय में असिस्‍टेंट प्रोफेसर पद से उत्‍तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा मंत्री डा. सतीश द्विवेदी के भाई ने व्‍यक्तिगत कारणों का हवाला देते हुए इस्‍तीफा दे दिया है। विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.सुरेन्‍द्र दुबे ने उनका इस्‍तीफा स्‍वीकार भी कर लिया है। अभी हाल ही में EWS (आर्थिक रूप से कमजोर सामान्य अभ्यर्थी) कोटे के तहत मंत्री सतीश द्विवेदी के भाई अरुण द्विवेदी की नियुक्ति सिद्धार्थ विश्वविद्यालय में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर हुई थी। लेकिन बेसिक शिक्षा मंत्री के भाई की यह नियुक्ति किसी को सामान्य नहीं लगी। ऐसे में कई गंभीर सवाल उठाए गये।डा. अरुण पर गलत ढंग से ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट हासिल करने का आरोप लगा था। 

तमाम विवादों के बीच डॉ. अरुण द्विवेदी ने बीते शुक्रवार को कार्यभार सम्भाल लिया था। वहीं, विश्वविद्यालय के कुलपति सुरेंद्र दुबे की ओर से सफाई में कहा गया था कि उनके पास नियुक्ति के सभी प्रमाण पत्र मौजूद हैं, किसी तरह की कोई सिफारिश का नियुक्ति के पीछे कोई हाथ नहीं है। डॉ. अरुण द्विवेदी ने इस्तीफा देने वाले पत्र में अपनी योग्यता बताते हुए कहा कि उनका चयन निर्धारित प्रक्रिया के अंतर्गत हुआ था। लेकिन दुर्भाग्य से उनके कार्यभार ग्रहण करने के तुरंत बाद उनके बड़े भाई सतीश द्विवेदी की छवि को धूमिल करने का प्रयास किया गया। कहा कि वह नहीं चाहते हैं कि उनके कारण उनके भाई पर बेबुनियाद आरोप लगे। अरुण द्विवेदी ने दावा किया कि नवंबर 2019 में आवेदन के समय उन्होंने अपनी आर्थिक स्थिति के अनुसार ईडब्ल्यूएस का प्रमाण पत्र बनवाकर आवेदन दिया था। बाद में उच्च शिक्षा में सेवारत लड़की का शादी का प्रस्ताव आने पर अपने जीवन की बेहतरी का प्रयास किया। इस भर्ती के लिए उन्होंने सारी प्रक्रियाएं पूरी की थी। इसमें बड़े भाई सतीश द्विवेदी की कोई भूमिका नहीं थी। 

Post a Comment

0 Comments