To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

बलिया : सरकार के फैसले के बाद शिक्षक नेता डॉ. घनश्याम चौबे ने उठाई ये मांग


बलिया। विशिष्ट बीटीसी शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष डॉ. घनश्याम चौबे ने कहा कि शिक्षक एका के चलते सरकार को एकबार फिर झुकना पड़ा है। पंचायत चुनाव में संक्रमण के कारण पूरे प्रदेश में दिवंगत हुए 1621शिक्षकों/शिक्षामित्रों के लिए नई गाइड लाइन बनाने का मुख्यमंत्री जी का फैसला स्वागत योग्य है, लेकिन इसे नकारा नहीं जा सकता कि संक्रमण काल में पंचायत चुनाव का फैसला गलत था। अगर समय से सरकार की तन्द्रा टूट गई होती तो 1621 साथियों को जीवन गंवाना नहीं पड़ता, जिसका दुःख आजीवन रहेगा। जिलाध्यक्ष ने मांग की कि नई गाइड लाइन में दिवंगत 1621 शिक्षक/शिक्षामित्रों के  परिवार जनों को एक करोड़ रुपया अनुग्रह राशि एवं परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने का प्राविधान होना चाहिये। 

डॉ चौबे ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी से  मांग किया कि शासन के आदेश के क्रम में 69000 भर्ती के शिक्षकों के शपथ पत्र के आधार पर वेतन भुगतान की प्रक्रिया में तेजी लाकर यथाशीघ्र वेतन भुगतान सुनिश्चित कराया जाय, ताकि संक्रमण काल में उन्हें आर्थिक तंगी का सामना न करना पड़े। डॉ. घनश्याम चौबे ने यह कहा कि शैक्षिक सत्र 20181-19 में ड्रेस वितरण की 25% की अवशेष धनराशि का भी भुगतान अभी तक नहीं हो पाया है, जबकि संबंधित फर्म द्वारा भुगतान हेतु शिक्षकों पर दबाव बनाया जा रहा है। उक्त के संबंध में एसोसिएशन द्वारा भुगतान की मांग की जा चुकी है, लेकिन अभी तक भुगतान न होने से शिक्षकों में रोष व्याप्त है। 

Post a Comment

0 Comments