बलिया : सकारात्मक सोच से जीती जा सकती है कोरोना से जंग


बलिया। सामाजिक चिंतक बब्बन विद्यार्थी ने कहा कि जीवन आशा, विश्वास, धैर्य एवं आत्मबल पर टिका है। आत्मबल के सहारे किसी भी बाधा को पार किया जा सकता है। यदि आत्मशक्ति का अनुसरण कर संघर्ष करें तो विजय अवश्य प्राप्त होगी। 
घोड़हरा गांव में आने-जाने वाले राहगीरों में मास्क एवं सैनिटाइजर का वितरण करते हुए सामाजिक चिंतक ने कहा कि हमारी लापरवाही ने कोरोना वायरस संक्रमण आने का अवसर दिया है। इससे घबराने की जरूरत नहीं है। बस 'दो गज की दूरी, मास्क है जरूरी' का ध्यान रखें। नकारात्मकता त्याग कर सकारात्मकता पर ध्यान देने की जरूरत है। इस अवसर पर डॉ सुरेशचंद्र, उमाशंकर पाठक, चिन्मय गुप्ता, रामेश्वर चौधरी पटेल, शिवशंकर गुप्ता लाल जी एवं अरविंद तिवारी आदि मौजूद रहे।

Post a Comment

0 Comments