To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

बलिया : धरना पर भाजपा विधायक, निशाने पर डीएम


बैरिया, बलिया। पांच दिनों से रानीगंज उप मंडी समिति सोनबरसा में किसानों के गेहूं की सरकारी खरीद बंद होने से नाराज भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह गुरुवार को धरने पर बैठ गए। मंडी समिति सोनबरसा परिसर में धरनारत विधायक ने स्पष्ट कहा कि जब तक गेहूं की खरीद शुरू नहीं होगी, मेरा सत्याग्रह जारी रहेगा। लगभग सात घंटे बाद पहुंचे डिप्टी आरएमओ अविनाश कुमार के नेतृत्व में गेहूं की खरीद शुरू हुई, तब विधायक ने धरना समाप्त किया। उधर, एसडीएम बैरिया ने डिप्टी आरएमओ को तीन जिम्मेदार कर्मचारियों को निलंबन की संस्तुति करने को कहा है।

बता दें कि बिना किसी सूचना के क्रय केंद्र पर गेहूं की खरीदारी के लिए नियुक्त अधिकारी और कर्मचारी क्रय केंद्र पर ताला बंद कर पांच दिनों से गायब थे। इस बीच, अपना-अपना गेहूं ट्रैक्टर पर लादकर विपणन केंद्र पहुंचे दर्जनों किसान दिन-रात उन्हीं के इंतजार में क्रय केंद्र पर प्रतीक्षा कर रहे थे। कुछ किसानों ने इसकी सूचना विधायक को दी। विधायक सुरेंद्र सिंह ने बताया कि मैंने जिलाधिकारी सहित सभी जिम्मेदार अधिकारियों से गेहूं क्रय केंद्र की व्यवस्था सुनिश्चित करने को कहा था। किंतु किसी ने इस बात को गंभीरता से नहीं लिया। इस कारण मुझे धरने पर बैठना पड़ा, क्योंकि किसान ही मेरे अपने हैं। 

विधायक ने कहा कि किसानों का दर्द संवेदनहीन अधिकारियों को मालूम नहीं है। इसलिए मैंने निर्णय ले लिया था कि जब तक किसानों के गेहूं की खरीदारी शुरू नहीं होगी, धरना जारी रहेगा। वहीं, सत्ताधारी दल के विधायक के धरने की सूचना पर प्रशासन हलकान रहा, किंतु विधायक के डर से कोई भी अधिकारी या कर्मचारी मौके पर आने का साहस नहीं जुटा पा रहा था। सर्वप्रथम बैरिया एसएचओ राजीव कुमार मिश्र मय फोर्स पहुंचे। फिर लगभग तीन घंटे बाद एसडीएम बैरिया प्रशांत कुमार नायक भी मौके पर पहुंच गए। धरने पर बैठने के लगभग सात घंटे बाद डिप्टी आरएमओ व उनके सहयोगी गेहूं क्रय केंद्र पर पहुंचे। 



किसानों ने रोकी रफ्तार
गेहूं क्रय केंद्र बंद होने के विरोध में क्षेत्र के सैकड़ों किसानों ने सोनबरसा गांव के सामने बैरिया दलन छपरा मार्ग को जाम कर दिया। यह जाम ग्यारह बजे से सायं पांच बजे तक जारी रहा, जिसे पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों ने समझा-बुझाकर समाप्त कराने का प्रयास किया। किंतु किसानों ने जाम समाप्त करने से मना करते हुए कह दिया कि जब तक गेहूं की खरीद शुरू नहीं हो पाएगी, तब तक चक्का जाम जारी रहेगा। सड़क जाम करने वालों में मुख्य रूप से विनोद सिंह, महेंद्र दुबे, धनंजय सिंह, निखिल उपाध्याय, अमित सिंह, दीनानाथ प्रसाद, अविनाश सिंह, महेंद्र ओझा, सहजानंद सिंह, अजय सिंह सहित सैकड़ों लोग शामिल थे।

शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments