बलिया : सपा नेता ने उठाया 'सिस्टम' पर सवाल


बलिया। समाजवादी पार्टी के जिला प्रवक्ता सुशील पांडेय 'कान्ह जी' ने कोरोना काल में सिस्टम पर सवाल खड़ा किया है। कहा कि लोग अपनों को खो रहे हैं और सिस्टम लाशें गिन रहा है। सिस्टम के लिए ये लाशें महज आंकड़ा हैं। लेकिन इतिहास गवाह है कि धृतराष्ट्रों को कभी माफी नहीं मिली।

सपा नेता ने कहा, कोरोना की दूसरी लहर बहुत क्रूर है। हर घर पर हमलावर है। लेकिन अफसोस, आज सरकारें आंखों पर 'मास्क' लगाकर अंधी बानी हुई हैं। माना कि कोरोना महामारी है, तो क्या सरकार को अपनी ओर से पहल नहीं करनी चाहिए ? पांच राज्यों के चुनाव में वर्चुअल रैलियां नहीं हो सकती थीं ? यूपी पंचायत चुनाव स्थगित नहीं किया, परंतु मतगणना तो स्थगित की जा सकती थी। ऐसा कुछ सिस्टम ने नहीं किया, जो लोगों की जान बचा सके। सरकार किस लचर तरीके से काम करती है। इसका एक नमूना 18 वर्ष से अधिक आयु वालों के टीकाकरण में दिख रहा है। टीके का बिना समुचित प्रबंध किए इमेज ब्रांडिंग के लिए एक मई से वैक्सिनेशन की घोषणा कर दी गई। यह तेजी कोरोना के प्रसार को रोकने में नहीं दिखाई गई।

Post a Comment

0 Comments