To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

बलिया : मुख्यमंत्री आवास पर आत्मदाह की चेतावनी ने तोड़ी प्रशासन की कुम्भकर्णी नींद और...


मनियर, बलिया। मुख्यमंत्री आवास के सामने धरना एवं आत्मदाह की धमकी पर नगर पंचायत मनियर कार्यालय की न सिर्फ कुंभकर्णी निद्रा खुली, बल्कि आनन-फानन में नगर पंचायत मनियर के अधिशासी अधिकारी मृदुल कुमार सिंह ने स्व. उमाशंकर सिंह का मृत्यु प्रमाण पत्र बनाकर 22 मई 2021 को उसका पीडीएफ पीड़ित कांग्रेस नेता रौशन सिंह चंदन के मोबाइल पर भेज दिया। कांग्रेस नेता रौशन सिंह चंदन ने इसके बाद धरना व आत्मदाह का फैसला वापस ले लिया है। 

नगर पंचायत मनियर के वार्ड नम्बर पांच निवासी कांग्रेस नेता रौशन सिंह चंदन के पिता उमाशंकर सिंह का निधन 28 अप्रैल 2021 को हो गया था। उन्होंने 29 अप्रैल 2021 को मृत्यु प्रमाण पत्र के लिए नगर पंचायत मनियर में आवेदन किया, लेकिन 3 सप्ताह बाद भी उन्हें मृत्यु प्रमाण पत्र नहीं मिला। फिर उन्होंने मुख्यमंत्री पोर्टल पर शिकायत की, जिसके तारत्मय में नगर पंचायत मनियर ने गलत आख्या लगा दी।सिस्टम से आहत कांग्रेस नेता ने 24 मई को सीएम आवास के सामने धरना और आत्मदाह की चेतावनी दी। इसके बाद नगर पंचायत के अधिशासी अधिकारी की नंद्रा टूटी। 

सवाल यह है कि जब प्रभावशाली व्यक्तियों के साथ नगर पंचायत द्वारा ऐसा व्यवहार किया जाता है तो आम जनता के साथ क्या होता होगा ? इसका अंदाजा सहज लगाया जा सकता है। कोरोना काल में लोगों को नगर पंचायत कार्यालय में अपना कार्य कराने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। कांग्रेसी नेता रौशन सिंह चंदन ने मीडिया व सभासद संजीव कुमार सिंह तथा चुन्नू सिंह के प्रति आभार व्यक्त किया है। 

Post a Comment

0 Comments