To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

बलिया : राज्यमंत्री आनंद स्वरूप शुक्ल के आवास पर महिलाओं ने किया जमकर हंगामा, फिर...


बलिया। गोपाल बिहार कालोनी (सतनी सराय) स्थित राज्यमंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला के आवास पर सोमवार को फरियाद लेकर पहुंचीं महिलाओं ने जमकर हंगामा किया। महिलाओं ने न सिर्फ मंत्री का घेराव किया, बल्कि तोड़फोड़ भी की। सूचना पर पहुंची पुलिस के साथ भी तकझक हुई। हालांकि  पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित कर कुछ महिलाओं को हिरासत में ले ली। वहीं, महिलाओं द्वारा किये गये हंगामा को राज्यमंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला ने साजिश का हिस्सा बताया है।कहा कि महिलाओं की मांग के अनुरूप अधिकारियों तक उनकी बात को पहुंचाकर समस्‍या निवारण का प्रयास किया, फिर भी महिलाएं आक्रोशित होकर प्रदर्शन करने लगीं।

ये है मामला
राइट टू एजुकेशन के तहत अभिभावकों को मिलने वाले 5000 रुपये के भुगतान की मांग को लेकर लगभग दो दर्जन महिलाएं राज्यमंत्री आनंद स्वरुप शुक्ल के आवास पर पहुंचकर पत्रक दी। पत्रक मिलने के बाद मंत्री ने बीएसए को डिमांड लेटर सरकार को भेजने के निर्देश दिया। इसके बाद महिलाएं वहां से लौट गई। चर्चा है कि महिलाएं पुनः एक नेता के इशारे पर मंत्री के आवास पर पहुंच गई। वे अपनी मांग तत्काल पूरा करने की जिद पर अड़ गईं। इस दौरान न सिर्फ कुछ कुर्सियां टूटी, बल्कि अफरा-तफरी मच गई। महिलाओं का आरोप है कि वहां पर मौजूद कार्यकर्ताओं ने उनके साथ दुर्व्‍यवहार किया। एक पोर्टल पत्रकार से भी मारपीट की गई। उसका मोबाइल भी छिन लिया गया। उधर, मंत्री महिलाओं को समझाते रहे, लेकिन सब बेअसर रहा। सूचना पर पहुंची पुलिस ने विरोध प्रदर्शन के बीच आश्‍वासन देकर महिलाओं को बाहर किया।चार महिलाओं के साथ पांच को हिरासत में लिया गया। इससे आक्रोशित अन्य महिलाएं भी कोतवाली पहुंच गई। वहां, वह मांग कर रही थी कि हिरासत में ली गई महिलाओं को तत्काल छोड़ा जाय। 

महिलाओं का आरोप
महिलाओं का आरोप था कि राइट टू एजुकेशन का पिछले दो वर्ष का बकाया 10 हजार रुपये एक साथ देने का सरकार द्वारा वादा किया गया था। बीएसए की ओर से 31 मार्च 2021 के पहले खाते में पैसा भेजने का आश्वासन दिया गया था।शासन द्वारा पैसा भी आ गया, लेकिन हम गरीबों के खाते में पैसा अभी तक नहीं भेजा गया। हमारे बच्चों की पढ़ाई बाधित हो गई है।

Post a Comment

0 Comments