तिरंगे में लिपटकर घर पहुंचा बलिया का बेटा, एक झलक पाने को उमड़ा जनसैलाब


रेवती, बलिया। रेवती थाना क्षेत्र अंतर्गत दल छपरा गांव निवासी बीएसएफ जवान का शव पहुंचते ही कोहराम मच गया। ताबूत में रखे शव से लिपटकर जहां पत्नी दहाड़े मार रही थी, वहीं अन्य परिजन भी बेसुध पड़े थे। जवान का अंतिम संस्कार गंगा नदी के गंगापुर घाट पर सम्मान के साथ किया गया, जहां बड़े पुत्र सुमित ने मुखाग्नि दी।


रेवती थाना क्षेत्र के दलछपरा गांव निवासी बीएसएफ जवान ललित यादव (40) पुत्र स्व. बृजनाथ यादव की तैनाती असम, गोहाटी के कूच बिहार सिलीगुड़ी में थी। मुख्य आरक्षी पद पर तैनात ललित की तबीयत करीब 15 दिन पहले खराब हो गयी। साथी जवानों ने उन्हें गोहाटी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया, जहां इलाज चल रहा था। गुरुवार को तड़के ललित जिंदगी की जंग हार गये। इसकी सूचना मिलते ही गांव में शोक की लहर दौड़ गयी। शनिवार को बीएसएफ के एसआई गोपाल यादव एवं एनडीआरएफ पटना के इंस्पेक्टर राजन आदि अधिकारियों के नेतृत्व में ललित का शव पैतृक गांव पहुंचा, जहां अपने लाल के दर्शन को पूरा इलाका उमड़ पड़ा। मिलनसार प्रवृति के धनी ललित की आखिरी झलक पाने को हर कोई आतुर था। 

पुष्पेंद्र तिवारी 'सिन्धु'

Post a Comment

0 Comments