To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

'सिरफिरा दिल...' की सफलता के बाद बलिया के युवा गीतकार का मायानगरी में धमाल


बैरिया, बलिया। भोजपुरी मिट्टी की सोधी महक की कायल मायानगरी हो चुकी है। ठेठ भोजपुरिया अन्दाज में जीवन बिताने वाले क्षेत्र के सोनबरसा गांव निवासी युवा गीतकार घनश्याम सिंह पिंटू के दो गानों को मुंबई के एक म्यूजिक कम्पनी द्वारा एलबम के रूप में रिलीज करने के बाद फ़िल्म निर्माता प्रोड्यूसर सुनील दुखानी ने अपने आने वाली एक फ़िल्म का गीत लिखने का एग्रीमेंट घनश्याम सिंह पिंटू को दिया है।
बुधवार को मुंबई से वापस लौटने के बाद पिंटू ने बताया कि 'क्यों दूसरो को पूछा करते हो आते जाते हाल मेरा...' और 'सिरफिरा दिल...' को अच्छी सफलता मिली। दर्शकों व श्रोताओं ने इसे पसंद किया। इसके बाद सुनील दुखानी ने मुझे अपने फिल्मों की गीत लिखने के लिए एग्रीमेंट कराया है। फिलहाल उक्त फ़िल्म के लिए कुल छह गीत लिखना है, जिसमें से चार लिख चुका हूं। फ़िल्म के संगीतकार ने उन चारों गीतों को हरीझंडी दे दी है। घनश्याम उर्फ पिंटू का कहना है कि बिना गार्ड फादर मायानगरी में पाव जमाना कठिन है। असम्भव नहीं है। मैं ठेठ ग्रामीण क्षेत्र से हूं। बावजूद मुझे अवसर मिल रहा है।अगर दर्शकों ने पसन्द किया तो आने वाले दिन मेरे लिए सफलता के मार्ग प्रशस्त करेंगे।

शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments