बलिया में चुनावी बवाल : यहां प्रतिष्ठापरक है BDC का चुनाव, क्योंकि...


बलिया। नरही थाना क्षेत्र के पिपरा कलां गांव में शुक्रवार की रात चुनावी रंजिश में कहासुनी के बाद ईंट पत्थर चलने के साथ ही फायरिंग भी शुरू हो गई। सूचना मिलते ही नरही,  चितबड़ागांव, फेफना पुलिस तथा पुलिस अधीक्षक मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने आकाश सिंह की तहरीर पर धारा 147, 148, 308, 323, 504, 506 व 7 सीएलए एक्ट तथा विजय सिंह बागी की तहरीर पर धारा 147, 148, 307, 323 379 व 427 के अंतर्गत मुकदमा दर्ज करनेे के साथ ही 7 लोगों को गिरफ्तार कर चालान न्यायालय कर दिया।


विकासखंड सोहांव में प्रमुख पद इस बार अनारक्षित है। इसको लेकर सम्भावित प्रमुख पद के प्रत्याशी क्षेत्र पंचायत सदस्य (BDC) का चुनाव जीतने को अपने क्षेत्र में डटे है। दावतों का भी दौर चल रहा है। इसी कड़ी में पिपरा कलां गांव में शुक्रवार की रात क्षेत्र पंचायत सदस्य पद के दो दावेदारों की पार्टी अलग-अलग चल रही थी। दोनों दावेदार क्षेत्र पंचायत सदस्य की एक ही सीट पर चुनाव लड़ रहे हैं। दोनों का घर पास में ही है। एक पक्ष के आकाश सिंह की दावत रात के 9:00 बजे खत्म हो गई, जबकि दूसरे पक्ष के मनीष सिंह धीरज की दावत विक्रमा सिंह के दरवाजे पर चल रही थी। आरोप हैं कि उसी दौरान मनीष सिंह धीरज की तरफ से छींटाकशी की गई, जिसका प्रतिरोध आकाश सिंह के समर्थकों ने किया तो दोनों पक्ष में कहासुनी होने के बाद ईंट पत्थर चलने लगे। इसमें आकाश सिंह के पिता चंद्रभान सिंह को सिर पर गंभीर चोटें आई। इसके बाद हो-हल्ला मचने पर फायरिंग शुरू हो गई। सूचना मिलते ही नरही थाना प्रभारी योगेंद्र बहादुर सिंह मौके पर पहुंच गये। तब तक चितबड़ागांव और फेफना थाने की पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। इसी समय पुलिस अधीक्षक विपिन टाडा भी मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने रात में ही दबिश देनी शुरू कर दी। इसमें दोनों पक्षों से 7 लोगों को हिरासत में लिया गया। इसमें प्रथम पक्ष से विजय सिंह उर्फ बागी पुत्र परमात्मा सिंह, रविशंकर सिंह उर्फ सीटू पुत्र हरिशंकर सिंह, धर्मेंद्र नाथ सिंह पुत्र स्व. प्रसिद्ध नाथ सिंह निवासी पिपरां कलां तथा दूसरे पक्ष से लक्ष्मण सिंह पुत्र स्व. रामचंद्र सिंह, संतोष सिंह पुत्र स्व. गुप्तेश्वर सिंह, दिग्विजय सिंह पुत्र स्व. चंद्रबली सिंह निवासी पिपरा कला एवं संजय सिंह यादव पुत्र रामराज सिंह यादव निवासी खैराबारी थाना भांवरकोल गिरफ्तार किए गए।


घायल चंद्रभान सिंह रेफर
घटना में बुरी तरह से घायल चंद्रभान सिंह को इलाज के लिए रात में ही सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नरही पर लाया गया, जहां उनकी हालत को गंभीर देख चिकित्सकों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया। लेकिन वहां से भी उन्हें वाराणसी रेफर किया गया है। उनका इलाज ट्रामा सेंटर वाराणसी में चल रहा है।

टीमें गठित, जल्द होगी सभी की गिरफ्तारी
नरही थाना प्रभारी योगेंद्र बहादुर सिंह ने बताया कि इस मामले में टीम गठित कर शेष अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास जारी है। विभिन्न स्थानों पर दबिश दी जा रही है। जल्द गिरफ्तारी कर ली जाएगी।एहतियात के तौर पर घटनास्थल पर पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है।

Post a Comment

0 Comments