To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


ads booking by purvanchal24@gmail.com

बलिया : सनबीम स्कूल ने कुछ यूं मनाया विश्व गौरेैया दिवस, बच्चों ने पूछे DFO से सवाल


बलिया। प्रतिकूल परिवेश के कारण गौरैयों की संख्या में नित गिरावट से उनके संरक्षण व संवर्धन के निमित्त अगरसण्डा स्थित सनबीम स्कूल में बच्चों द्वारा विश्व गौरैया दिवस मनाया गया। मुख्य अतिथि जिला वन अधिकारी श्रीमती श्रद्धा यादव ने रेडियेशन, शोर, आधुनिक इमारतों व प्रतिकूल परिस्थितियों को इसके लिए जिम्मेदार ठहराया। कार्यक्रम के दौरान संस्कृति सिंह, अनुपम मिश्रा, उत्कर्ष पाण्डेय आदि छात्रों ने मुख्य अतिथि से गौरैया के संरक्षण पर प्रश्न किये व सुझाव मांगें। श्रीमती यादव ने एक-एक करके सभी बच्चों को संतोषजनक जवाब दिया। 

उन्होंने विद्यालय द्वारा आयोजित प्रतियोगिता में विजेता बच्चों को प्रशस्ति पत्र से सम्मानित किया। बच्चों को विद्यालय द्वारा कृत्रिम गौरैया आवास भी दिया गया। बच्चों ने गौरैया पर आधारित हिन्दी व अंग्रेजी रचना से सभी का मन मोह लिया। जबकि प्रातः असेम्बली में विद्यालय के शिक्षक डाॅ. नवचन्द्र तिवारी द्वारा रचित कविता ‘लगे कितनी सुंदर गौरैया’ सुनाया गया। विद्यालय के निदेशक डाॅ. कुंवर अरूण सिंह ने गौरैया के संरक्षण हेतु बच्चों को जागरूक करते हुए बताया कि गौरैया ही एकमात्र पक्षी है, जो वर्ष में दो बार अंडे देती है। अतः हम सबका कर्तव्य है कि इन्हें हम संरक्षण दें। 

प्रधानाचार्या श्रीमती सीमा ने गौरैया को अनुकूल माहौल देने हेतु बच्चों को आवश्यक टिप्स भी बताया। विद्यालय के निदेशक व प्रधानाचार्या ने मुख्य अतिथि का स्वागत पुश्प गुच्छ व स्मृति चिन्ह देकर किया। मुख्य अतिथि ने अगले दिन आयोजित वन विहार स्थित अंतर्राष्ट्रीय वन्य दिवस पर बच्चों को आमंत्रित भी किया। कार्यक्रम का संचालन विद्यालय की छात्रा हर्षिता ने किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में शिक्षकगणों व कर्मचारियों का सहयोग सराहनीय रहा।

Post a Comment

0 Comments