To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

बलिया : साथियों अभी नहीं तो कभी नहीं... धरना पर LIC अभिकर्ता


बांसडीह, बलिया। अभिकर्ता साथियों अभी नहीं तो कभी नहीं, वक्त आ गया है। शहीद दिवस 23 मार्च गवाह होगा। अपने अधिकार शोषण, पक्षपात के खिलाफ आवाज बुलंद होगी। कुछ इसी सोच व उमंग के साथ भरतीय जीवन बीमा निगम बांसडीह कार्यालय पर आल इंडिया लाइफ इंश्वयोरेन्स एजेंट्स फेडरेशन आफ इंडिया के आह्वान पर एक दिवसीय अभिकर्ता विश्राम दिवस के तहत सैकड़ो अभिकर्ता शाखा के मुख्य गेट पर बैठ गए। 
वक्ताओं ने कहा कि गुलामी सोच, त्याग अपने हक की लड़ाई में साथ हैं। प्रतिज्ञा करते हम महासंघ लिआफी के साथ है। इस दौरान अभिकर्ताओं ने पालिसी से जीएसटी हटाने,पालिसी पर बोनस बढ़ाने, जीपीएफ, पेंशन, ग्रेजुएटी को जल्द लागू करने, निजीकरण मैनेजमेंट्री शाही खर्चे बन्द करे। प्रीमियम प्वाइंट रसीद चार्ज के साथ ही सुविधाओं आदि मांगो को बढ़ाने की मांग की गयी। वक्ताओं ने कहा कि अपने हक़ के लिए लड़ने के लिए शेर का कलेजा चाहिये। तलुए चाटने के लिए तो जुबान ही काफी है। प्रदर्शन के दौरान मुख्य रूप से अलीहशन सिद्दीकी, विनोद वर्मा, शिवशंकर कुशवाहा, अशोक सिंह, राजकुमार यादव,चन्द्रिका तिवारी, शंकर जी अग्रवाल, पंकज कुमार रौनियार, अरविंद सिंह, गणेश जी पांडेय, विश्वकर्मा शर्मा, उमेश प्रसाद,धनंजय सिंह आदि रहे। संचालन नरेंद्र दुबे ने किया।

विजय कुमार

Post a Comment

0 Comments