बलिया : वन विभाग व ज्ञानपीठिका की सोच से चहका बचपन, निखरी प्रतिभा ; CDO, DFO और...


बलिया। जीरा बस्ती स्थित वन विहार में वन विभाग व ज्ञानपीठिका स्कूल के संयुक्त तत्वधान में आयोजित दो दिवसीय जैव विविधता, विश्व पर्यावरण, स्वच्छता पखवाड़ा तथा विश्व गौरैया दिवस कार्यक्रम के दूसरे दिन भी विभिन्न स्कूलों के छात्र-छात्राओं व शिक्षकों में जबरदस्त उत्साह देखने को मिला। कार्यक्रम स्थल पर अलौकिक प्रदर्शनी लगी थी। बच्चों को अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए प्रतियोगिता भी आयोजित थी। पूरी व्यवस्था पर वन्याधिकारी श्रद्धा यादव व ज्ञानपीठिका स्कूल की प्रधानाचार्य संस्कृति सिंह की पैनी नजर रही। 


इससे पहले कार्यक्रम का शुभारम्भ बतौर मुख्य अतिथि मुख्य विकास अधिकारी प्रवीन कुमार, वन्याधिकारी श्रद्धा यादव, ज्ञानपीठिका स्कूल की निदेशक रीना सिंह व प्रधानाचार्य संस्कृति सिंह ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। कार्यक्रम में उपस्थिति जनपद के सभी भगिनी बंधुओं का अभिवादन संगीत अध्यापक आशीष ने स्वागत गान से किया, जिनका तबले पर शराफत ने साथ दिया।कार्यक्रम के सफलता पूर्वक आयोजन में वन्य विभाग के पुलिस, विद्यालय के शिक्षक आदि अन्य ने सम्पूर्ण योगदान दिया। मंच का संचालन रीता गोस्वामी, प्रश्नांत तिवारी एवंं उत्कर्ष तिवारी ने संयुक्त रूप से किया।


चला प्रतियोगिताओं का दौर

दूसरी ओर रविवार को भी जैव विविधता और पर्यावरण आधारित प्रश्नोत्तरी तथा कला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें जनपद के विभिन्न स्कूल के छात्र-छात्राओं ने बढ़ चढ़कर भाग लिया। वहीं, विगत सप्ताह में आयोजित अन्य प्रतियोगिताओं का भी पुरस्कार आज ही संयुक्त रुप से वितरित किया गया। इसमें श्रेया चौरसिया प्रथम स्थान पर रहीं। द्वितीय स्थान अक्षय कुमार पर रहें। वहीं प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता में आर्यन श्रीवास्तव प्रथम तथा यशवी द्वितीय पर रहीं।सभी बच्चों को सीडीओ, वन्याधिकारी व ज्ञानपीठिका स्कूल की प्रधानाचार्य संस्कृति सिंह ने प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया। 


वन्याधिकारी श्रद्धा यादव व प्रधानाचार्य संस्कृति सिंह ने दी शुभकामनाएं

जिला वन्याधिकारी श्रद्धा यादव ने सभी बच्चों को शुभकामनाएं देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। प्रधानाचार्य संस्कृति सिंह ने जीवन और जीवन संघर्षों से ना घबराते हुए अटल भाव से कर्तव्य पथ पर अग्रसर रहने का आशीर्वाद प्रतियोगियों को दिया। 


सांस्कृतिक कला पक्ष की रही विशेष उपलब्धि 

कार्यक्रम में विशेष उपलब्धि सांस्कृतिक कला पक्ष रहा, जिसमें वाराणसी से आए कई कलाकारों ने वादन और कथक नृत्य से सबका मन हर लिया।इसमें आशुतोष सिंह का कथक नृत्य अद्भुत रहा। उन्होंने नमामि गंगे विषयक गंगा अवतरण भाव नृत्य प्रस्तुत किया। 
 

इन स्कूलों ने किया प्रतिभाग

प्रतियोगिता में ज्ञानपीठिका स्कूल, सनबीम तथा प्रावि गुरगुजपुर, प्रावि जीराबस्ती एक, देवकली एवं पटखौली तथा उप्रावि जीराबस्ती व भरतपुरा के छात्र-छात्राओं ने प्रतियोगिताओं में भाग लिया। कार्यक्रम में बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से सभी बच्चों व शिक्षकों के साथ एसआरजी आशुतोष कुमार सिंह तोमर  ने प्रतिभाग किया। कार्यक्रम में हंसराज यादव, अंकुर द्विवेदी, विभा श्रीवास्तव, पूनम सिंह, हेमलता सिंह, रमिता देवी, कविता सिंह एवं आशीष कुमार मौजूद रहे। 

Post a Comment

0 Comments