To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


बलिया : इन मांगों को लेकर एसडीएम चैम्बर में घुस गये दर्जनों युवक, फिर...


बैरिया, बलिया। अपनी जिम्मेदारी का एहसास न करने वाले अधिकारियों, गड्ढे में तब्दील एनएच-31 का पुनर्निर्माण कार्य बंद होने, जिन बाबा शोभा छपरा होते हुए बीएसटी बंधे तक जाने वाले मार्ग, जिन बाबा लक्ष्मण छपरा बाबू के डेरा मार्ग क्षतिग्रस्त होने व शोभा छपरा में 24 फरवरी को विद्युत हादसे में दलजीत टोला के तीन युवकों की मौत मामले में जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई नहीं होने से आक्रोशित शोभा छपरा के दर्जनों युवकों ने तहसील पर जिला व तहसील प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। साथ ही उप जिलाधिकारी बैरिया प्रशांत कुमार नायक को पत्रक सौंपा।
उल्लेखनीय है कि दर्जनों की संख्या में युवक  एसडीएम के चेंबर में पहुंचे तो उन्हें तुरंत चेंबर से निकल जाने का निर्देश दिया। युवक अड़ गए। बोले, पहले हमारी समस्या सुनिए। एसडीएम ने युवकों से उनकी समस्याएं पूछी। युवकों ने बताया कि पैसा मंजूर होने के बावजूद एनएच का निर्माण कार्य रुका हुआ है। जिन बाबा शोभा छपरा बीएसटी बंधा मार्ग तथा लक्ष्मण छपरा बाबू के डेरा मार्ग क्षतिग्रस्त है। उसे तत्काल ठीक कराया जाय। वहीं, बिजली विभाग के उन दोषी अधिकारियों को तत्काल निलंबित किया जाय, जिनके गलती के कारण 24 फरवरी को दलजीत टोला के तीन युवकों की दर्दनाक मौत हो गई। उपजिलाधिकारी ने कहा कि बुधवार से एनएच में काम लगेगा। शोभा छपरा बीएसटी बंधा मार्ग व लक्ष्मण छपरा बाबू का डेरा मार्ग को ठीक कराने के लिए आज ही लोक निर्माण विभाग को पत्र भेज रहा हूं। बिजली विभाग के आला अफसरों को भी इस संदर्भ में पत्र भेजूंगा। युवकों ने कहा कि जिलाधिकारी ने आपको भी मजिस्ट्रियल जांच सौंपा है। आप क्या कर रहे हैं तो उन्होंने कहा जो भी आकर अपना बयान दर्ज कराना चाहे। मैं बयान दर्ज करने को तैयार हूं। युवक एसडीएम को ज्ञापन सौंपने के बाद प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए वापस लौट गए। उन्होंने चेताया है जल्द कार्रवाई नहीं हुई तो प्रशासन के खिलाफ बड़ा आंदोलन खड़ा किया जाएगा। ज्ञापन देने वालों में सुनिल सिंह सोनू, गोविंद कुमार सिंह, कृष्ण कुमार सिंह, आदित्य सिंह, विक्रांत सिंह, गोलू सिंह, बीरेन्द्र पासवान सहित दर्जनों युवा शामिल थे।

शिवदयाल पांडेय 'मनन'

Post a Comment

0 Comments