बलिया : सेमिनार में हुई अल्पसंख्यक समुदाय के अधिकारों की बात, शिक्षक उमेश सिंह सम्मानित


बलिया। जन नायक चंद्रशेखर शिक्षा समिति के तत्वाधान में अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय, नई दिल्ली के सहयोग से अल्पसंख्यक समुदाय के अधिकारों के मुख्य स्रोत विषयक सेमिनार का आयोजन सुखपुरा में किया गया। सेमिनार में महिलाओं को किट व यात्रा भत्ता का वितरण किया गया। 


सेमिनार में मुख्य अतिथि (न्यायिक सदस्य बाल कल्याण समिति) राजू सिंह ने कहा कि महिलाएं समाज की धुरी है। वो जागरूक होकर व जानकारी हासिल कर अपने जीवन को उज्ज्वल करें। शिक्षक एवं समाजसेवी उमेश सिंह ने कहा कि महिलाओं में नेतृत्व की अपार क्षमता होती है। उन्हें अवसर उपलब्ध करा कर मजबूत राष्ट्र का निर्माण किया जा सकता है। प्रवक्ता लाल साहब यादव ने कहा कि शिक्षा जीवन का मूल अधिकार है। शिक्षा का अधिकार हमारा मूल अधिकार है। शिक्षा के दम पर ही हम समाज में उच्च मुकाम हासिल कर सकते है। संस्था सचिव मुनीश सिंह परिहार ने कहा कि अल्पसंख्यक अपने अधिकारों को हासिल करने के लिये जागरूक हो। अल्पसंख्यकों को समाज की मुख्य धारा में शामिल करने  व तरक्की के लिए अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय निरन्तर काम कर रहा है। 



विजन इंडिया के कर्यक्रम प्रबंधक मनोज कुमार ने कहा कि महिलाएं सेमिनार से हासिल जानकारी से स्वयं लाभान्वित होकर समाज को जागरूक करें। इस अवसर पर साबिरा, इमराना परवीन, बेबी तरन्नुम, शहरबानो, गजाला अफसर, शमा परवीन, अजय कुमार कोविद, राममूर्ति कश्यप, आदित्य प्रताप सिंह, चन्द्र प्रताप वर्मा, निधिन कुमार, सुनीता देवी, मिठू राजभर, पिंटू खान, प्रशांत सिंह, संतोष प्रजापति, विजय बहादुर सिंह आदि उपस्थित थे। संचालन मुकेश सिंह परिहार ने किया।

Post a Comment

0 Comments