बलिया : बिजली विभाग की चेकिंग के दौरान युवक की मौत पर हंगामा, पहुंचे अफसर


मनियर, बलिया। शुक्रवार को बिजली विभाग के जेई कैलाश राव अपने दल-बल के साथ मनियर थाना क्षेत्र के रिगवन गांव में चेकिंग कर रहे थे।चेकिंग के दौरान बिजली विभाग की टीम ने रामप्रवेश प्रसाद (35) पुत्र मुद्रिका गोंड़ (निवासी रिगवन थाना मनियर) अचेत हो गया। आरोप है कि रामप्रवेश प्रसाद को बिजली विभाग के लोगों ने मारा पीटा, जिससे रामप्रवेश जमीन पर गिर पड़ा। इसके बाद बिजली विभाग की टीम भाग निकली।

रामप्रवेश प्रसाद (फाइल फोटो)

परिजन किसी तरह उसे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मनियर ले गए, जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। इससे लोगों का गुस्सा सातवें आसमान पर चढ़ गया। काफी संख्या में मनियर थाने पर भीड़ एकत्रित हो गई। बिजली विभाग के विरुद्ध कार्रवाई की मांग शुरू हो गयी। किसी तरह से पुलिस ने लोगों को समझा-बुझाकर मामला शांत किया और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। 



मृतक के पिता मुद्रिका प्रसाद पुत्र शिव लोचन गोंड ने तहरीर दिया है कि वह अनुसूचित जनजाति का व्यक्ति है, जो विद्युत कनेक्शन लेकर आटा चक्की चलाता है।बिजली विभाग के जेई कैलाश राव एवं रंजीत वर्मा तीन चार लोगों के साथ मेरेे दुकान पर पहुंचे, जिनमें दो पुलिसकर्मी भी थे। दुकान पर विद्युत कनेक्शन का कागजात देखे एवं बीस हजार रुपए की मांग करने लगे। नहीं देने पर फर्जी मुकदमे में फंसाने एवं विद्युत कनेक्शन काटे जाने की धमकी देने लगे। गाली गलौज के साथ मारने पीटने लगे, जिससे मेरे लड़के की मौत हो गई। 


मनियर थाने पर पीड़ित पक्ष के नेताओं एवं प्रशासन के बीच एफआईआर के लिए तक-झक होती रही। उप जिलाधिकारी बांसडीह दुष्यंत कुमार मौर्या, नवागत सीओ बांसडीह अशोक कुमार त्रिपाठी, थानाध्यक्ष मनियर शैलेश सिंह, थानाध्यक्ष सिकंदरपुर विपिन सिंह मौके पर मौजूद रहे। मौके पर पूर्व विधायक भगवान पाठक, सपा नेता संकल्प सिंह, विजय यादव, जेपी यादव, रविंद्र सिंह, पूर्व प्रधान देवेंद्र यादव, टुनटुन सिंह सभासद कंचन सिंह, धर्मेंद्र मणिक, विद्या पांडे, लड्डू पाठक, दिलीप मिश्र इत्यादि मौजूद रहे। 

वीरेन्द्र सिंह

Post a Comment

0 Comments