To Learn Online Click here Your Diksha Education Channel...


>>>

बलिया : शादी का चार माह भी नहीं हुआ था पूरा, दुनिया छोड़ गई तारा


बलिया। करीब चार माह पहले ही परिणय-सूत्र में बंधी नवविवाहिता फांसी के फंदे पपर लटकी मिली। यह घटना रेवती थाना क्षेत्र के मानगढ़ गांव का है। मृतका के मायके वालों ने ससुरालियों पर दहेज के लिए हत्या का आरोप लगाया है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर अन्त्य परीक्षण के लिए भेज दिया है। 
बिहार के छपरा (सारण) जिले के भगवान बाजार थाना क्षेत्र अंतर्गत अजायबगंज निवासी प्रियंका उर्फ तारा (20) पुत्री लक्ष्मण चौधरी की शादी रेवती थाना क्षेत्र के मानगढ़ निवासी पप्पू चौधरी पुत्र सूबेदार साहनी के साथ 29 नवंबर 2020 को हुई थी। आरोप है कि शादी के बाद से ही ससुराली तारा से उसके मायके वालों से मिलने तक नहीं देते थे। दहेज में पलंग व सोने के सीकरी के लिए प्रताड़ित भी करते थे। करीब 20 दिन पहले उसका भाई अनूप कुमार मानगढ़ पहुंचा था, लेकिन ससुराल के लोगों ने मिलने नहीं दिया। वह अपनी बहन से मिले बिना वापस लौट गया। रविवार की सुबह में तारा का शव घर में पंखे के हुक से लटकता मिला। पड़ोसियों की सूूूचना पर मृतका तारा की मां उमरावती देवी, पिता लक्ष्मण चौधरी व भाई अनूप कुमार यहां पहुंच गये।आरोप लगाया कि दहेज के लिए तारा की सास, ससुर व जेठानी ने हत्या कर दी है। रेवती पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया है। 

Post a Comment

0 Comments